comScore

मैं अब जीना नहीं चाहता. यह चिल्लाते हुए चलती ट्रेन के आगे कूद गया युवक 

मैं अब जीना नहीं चाहता. यह चिल्लाते हुए चलती ट्रेन के आगे कूद गया युवक 

डिजिटली डेस्क जबलपुर। मैं अब जीना नहीं चाहता.. यह चिल्लाते हुए एक युवक ने मुख्य रेलवे स्टेशन पर कटनी एंड की ओर से आ रही महाकौशल एक्सप्रेस के इंजन के सामने छलाँग लगा दी, जिसे देखकर स्टेशन पर मौजूद यात्रियों ने डर के मारे आँखें बंद कर लीं, फिर हल्ला हुआ कि इंजन से टकराकर युवक का बायाँ हाथ धड़ से अलग हो गया है और वह गंभीर हालत में पटरियों के किनारे पड़ा हुआ है। रेलवे स्टेशन की पटरियों पर फैला खून देखकर यात्री दहशत में आ गए। इसी बीच सूचना पर जीआरपी की टीम मौके पर पहुँची और घायल युवक को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहाँ उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। जीआरपी थाना प्रभारी मंजीत सिंह ने बताया कि गुरुवार की दोपहर करीब पौने 12 बजे मोहरिया हनुमानताल निवासी अनवर शाह पिता असगर शाह ने महाकौशल एक्सप्रेस के इंजन के आगे कूद कर जान देने की कोशिश की ऐसी उन्हें जानकारी मिली थी। जिसके बाद टीम के एसआई यदुवंश मिश्रा को मौके पर रवाना किया गया, तो पूछताछ करने पर यात्रियों ने घटना के बारे में जानकारी दी। घटना के चश्मदीद गवाह संजीव मिश्रा ने बताया कि ऐसा लगता है कि युवक जान देने की नीयत से ही स्टेशन आया था, जैसे ही महाकौशल एक्सप्रेस प्लेटफॉर्म की ओर आने लगी, चिल्लाते हुए युवक ने ट्रेन के इंजन के आगे छलाँग लगा दी। तेज रफ्तार ट्रेन से टकराने के कारण युवक का बायाँ हाथ धड़ से कट कर अलग हो गया और युवक पटरियों के किनारे जा गिरा। श्री मिश्रा के अनुसार युवक अपने साथियों शाहिद, राशिद और शब्बीर के साथ कटनी पेशी में जा रहा था। उसकी जेब से महामाया एक्सप्रेस का टिकट मिला है। युवक ट्रेन के आगे कूद कर क्यों जान देना चाहता था, इस बारे में उसने अभी तक कुछ नहीं बताया है। घटना के बाद उसके साथी गायब हैं।
 

कमेंट करें
pyFzb