comScore

Meghalaya Election Results: कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी लेकिन बहुमत से दूर

March 04th, 2018 00:41 IST
Meghalaya Election Results: कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी लेकिन बहुमत से दूर

डिजिटल डेस्क, शिलॉन्ग। मेघालय की 60 में से 59 विधानसभा सीटों के लिए हुई वोटिंग के परिणाम आ गए हैं। यहां सत्तारूढ़ दल कांग्रेस को 21 और नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) को 19 सीटें हासिल हुई हैं। वहीं BJP को 2 सीटों पर जीत मिली है। अन्य के खाते में 17 सीटें आई हैं। यहां किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है, लेकिन पिछले 10 सालों से सत्ता संभाल रही कांग्रेस पार्टी अभी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। यहां अब NPP और कांग्रेस में सरकार बनाने की होड़ होगी। दोनों ही पार्टियां बहुमत हासिल करने के लिए अन्य दलों से बातचीत कर रही है। कांग्रेस के लिए गुजरात से राज्यसभा सांसद अहमद पटेल मेघालय आ चुके हैं। उन पर अन्य दलों से चर्चा कर पार्टी को एक बार फिर मेघालय की सत्ता पर काबिज करने की जिम्मेदारी दी गई है। इधर, बीजेपी 2 सीटें लाने के बाद भी यहां रणनीति बनाने में जुटी हुई है। राजनीतिक विशेषज्ञों की मानें तो बीजेपी यहां अपने पुराने सहयोगी NPP के साथ मिलकर कांग्रेस से एक और राज्य छिन सकती है।



बता दें कि यहां 59 सीटों पर वोटिंग हुई थी। मेघालय की विलियमनगर सीट से एनसीपी कैंडिडेट जेएन संगमा की 18 फरवरी को आईईडी ब्लास्ट में मौत हो गई थी। इस वजह से वहां वोटिंग टाल दी गई। मेघालय उन 4 राज्यों में से एक है जहां कांग्रेस की सरकार है। 2013 के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने यहां की 60 में से 29 सीटों पर कब्जा किया था और मुकुल संगमा मुख्यमंत्री बने थे। पिछले चुनावों में NPP ने 2, UDP ने 8, NCP ने 2 और अन्य ने 8 सीटें जीती थीं, जबकि 13 निर्दलीय उम्मीदवार विधायक बने थे।

कुछ सही तो कुछ गलत साबित हुए एग्जिट पोल
एक्सिस माईइंडिया और न्यूज24 के एग्जिट पोल के मुताबिक मेघालय में BJP को 30, कांग्रेस को 20, PDF को 3, NCP को 2 और अन्य को 4 सीटें मिलने का अनुमान था जो कि गलत साबित हुआ। सीवोटर के एग्जिट पोल में मेघालय में NPP को 17-23 सीट मिलने का अनुमान है। वहीं कांग्रेस को 13-19 और बीजेपी को 4-8 सीटें मिलने का अनुमान जताया जा रहा था। मतलब सीवोटर यहां पर बीजेपी की हार बता रहा थो। यह लगभग सही साबित हुआ। वहीं Newsx के एग्जिट पोल की अगर बात करें, तो मेघालय में बीजेपी को 8-12 सीटों पर जीत बताई गई थी, जबकि कांग्रेस को 13-17 और एनपीपी को 23-27 सीटें मिलने की संभावना जताई थी। यह भी गलत साबित हुआ।

कमेंट करें
5d6Ib