comScore

पाक सासंद ने की मोदी-सुषमा से मुलाकात, पुलवामा अटैक में पाक का हाथ होने से किया इनकार

February 24th, 2019 21:40 IST
पाक सासंद ने की मोदी-सुषमा से मुलाकात, पुलवामा अटैक में पाक का हाथ होने से किया इनकार

हाईलाइट

  • पाक सांसद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से रविवार को मुलाकात की।
  • सांसद रमेश कुमार वंकवानी ने 14 फरवरी की घटना में पाक के शामिल होने से इनकार किया।
  • सांसद एक विदेशी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे जिसे कुंभ मेले में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ऐसे समय में जब पुलवामा आतंकी हमले के मद्देनजर भारत-पाकिस्तान के संबंध बेहद खराब हो गए हैं, पाकिस्तान की सत्तारूढ़ पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के एक सांसद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से रविवार को मुलाकात की। मुलाकात के दौरान सांसद रमेश कुमार वंकवानी ने 14 फरवरी की घटना में इस्लामाबाद के शामिल होने से इनकार किया।

इस मुलाकात के बाद रमेश कुमार ने कहा, 'मैंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को आश्वस्त किया है कि पुलवामा हमले में कोई पाकिस्तानी संलिप्तता नहीं है। हमें एक सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ना चाहिए, हम शांति चाहते हैं।' इमरान खान के नेतृत्व वाली पार्टी के सांसद एक विदेशी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे जिसे भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (ICCR) द्वारा कुंभ मेले में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था। वांकवानी ने कार्यक्रम के मौके पर विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह से भी मुलाकात की।

पुलवामा हमले पर अपनी पहली टिप्पणी में, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने कहा था कि भारत अगर इस घटना के सबूत उपलब्ध करता है तो फिर पाकिस्तान इसकी जांच के लिए तैयार है। उन्होंने चेतावनी दी थी कि अगर भारत की तरफ से पाकिस्तान के खिलाफ किसी तरह की कार्रवाई की गई तो फिर पाकिस्तान भी इसका जवाब देगा।

पाकिस्तान पर लगातार बढ़ते दबाव के बाद उसने शुक्रवार को बहावलपुर में एक कैंपस जिसमें मदरसातुल साबिर और जामा-ए-मस्जिद सुभानल्ला है को प्रशासनिक नियंत्रण में ले लिया था। इस कैंपस को जैश-ए-मोहम्मद (JeM) का हेडक्वाटर माना जाता है। प्रवक्ता ने कहा था कि ये कार्रवाई प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक के निर्णय के अनुरूप की गई है।

बता दें 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ जवानों पर आत्मघाती हमला किया था। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इस हमले के बाद से ही पाकिस्तान की विश्व भर में कड़ी आलोचना की जा रही है। कई देश आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत के साथ खड़े हो गए हैं।

कमेंट करें
bjDSw