comScore

गाजीपुर: मोदी की रैली के बाद BJP समर्थकों पर पथराव, पुलिसकर्मी की मौत

January 04th, 2019 17:45 IST
गाजीपुर: मोदी की रैली के बाद BJP समर्थकों पर पथराव, पुलिसकर्मी की मौत

हाईलाइट

  • बीजेपी समर्थकों की गाड़ियों पर हुए पथराव में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई है।
  • बीजेपी समर्थकों ने दावा किया है कि SBSP और निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने इस घटना को अंजाम दिया।
  • CMO ने मृतक सुरेश की पत्नी को 40 लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की है।

डिजिटल डेस्क, बलिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को अपने लोकसभा क्षेत्र वाराणसी और गाजीपुर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने गाजीपुर में रैली को संबोधित किया। रैली के बाद शाम को वापस लौट रही बीजेपी समर्थकों की गाड़ियों पर हमला हुआ, जिसमें एक पुलिसकर्मी सुरेश कुमार वत्स की मौत हो गई। वहीं दो लोग घायल भी हुए हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाल लिया। बीजेपी समर्थकों ने दावा किया है कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) और निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने इस घटना को अंजाम दिया। 

दरअसल यह घटना बलिया के गाजीपुर कठवा मोड़ के पास की है। पीएम मोदी की रैली से लौट रहे बीजेपी समर्थकों की गाड़ियों पर अचानक से पथराव शुरू हो गया। मामला बिगड़ता देख बीजेपी समर्थकों ने भी ईंट-पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। पत्थरबाजी के दौरान वहां मौजूद सिपाही सुरेश को गंभीर चोट आई, जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए भी ले जाया गया। हालांकि इलाज से पहले ही उनकी मौत हो गई। 

सदर के सर्कल अफसर महिपाल पाठक ने बताया, 'सुरेश वत्स पीएम मोदी की रैली में ड्यूटी के बाद घर लौट रहे थे। अटवा मोड़ के पास निषाद समुदाय के कुछ लोग प्रदर्शन कर रहे थे। वहीं पर पत्थरबाजी की घटना हुई। इसी घटना में सुरेश गंभीर रूप से घायल हुए और उनकी मौत हो गई। इसके अलावा दो स्थानीय लोग भी घायल हुए हैं।'

सिपाही की मौत की खबर मिलते ही CMO ने इस घटना पर संज्ञान लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं। CMO ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि 'सीएम योगी आदित्यनाथ ने पत्थरबाजी की घटना की निंदा की है और कांस्टेबल सुरेश वत्स की दुर्भाग्यपूर्ण मौत पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने मृतक की पत्नी को 40 लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की है।'

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने आननफानन में वहां पहुंचकर मामले को शांत कराया। इसके बाद बीजेपी समर्थकों को रवाना कर दिया गया। बीजेपी समर्थकों ने कहा कि ओमप्रकाश राजभर के समर्थकों ने मायूसी में इस घटना को अंजाम दिया है। बता दें कि पीएम मोदी शनिवार को एक दिन के दौरे पर गाजीपुर पहुंचे और गांजीपुर मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखी। वहीं एनडीए के सहयोगी ओमप्रकाश राजभर और अनुप्रिया पटेल उनके कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए।

कमेंट करें
D0V3W