comScore

मध्य प्रदेश के मतदाताओं से नागपुर में संपर्क, रोजगार के लिए आए लोगों के बीच बैठकों का दौर

October 22nd, 2018 12:38 IST
मध्य प्रदेश के मतदाताओं से नागपुर में संपर्क, रोजगार के लिए आए लोगों के बीच बैठकों का दौर

हाईलाइट

  • मध्यप्रदेश के मतदाताओं से नागपुर में जनसंपर्क
  • रोजगार के लिए प्रदेश से बाहर गए वोटर्स से संपर्क कर रहे नेता
  • मध्य प्रदेश में 8 नवंबर को होना है मतदान

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव की रणनीति के तहत जनसंपर्क कार्य नागपुर में भी दिखने लगा है। मध्य प्रदेश से रोजगार के लिए यहां आए नागरिकों तक नेता पहुंचने लगे हैं। बाकायदा बैठकों का दौर आरंभ हो गया है। जो नागरिक मध्यप्रदेश के मतदाता हैं, उनसे कहा जा रहा है कि वे मतदान के संवैधानिक अधिकार का अवश्य इस्तेमाल करें। हिंगना, कलमना, हजारी पहाड़, सुरेंद्रगढ़, गिट्टीखदान, राजीव नगर, एमआईडीसी के अलावा अन्य कुछ क्षेत्रों में मध्य प्रदेश के नागरिकों की संख्या अधिक बताई जा ही है। रोजगार के लिए यहां स्थायी या अस्थायी तौर पर बसे इन नागरिकों के रिश्तेदारों की भी जानकारी जुटायी जा रही है। मतदान के आह्वान के साथ ही राजनीतिक दल की विचारधारा व कार्य के नाम पर नागरिकों को प्रभावित करने का प्रयास भी किया जा रहा है। 

शुभकामना देने के बहाने संपर्क
रीवा जिले के देवतालाब क्षेत्र से 3 बार विधायक रहे गिरीश गौतम ने रविवार को बेलतरोड़ी, काक्षीपुरा के अलावा अन्य क्षेत्राें में जनसंपर्क किया। ग्वालियर जिले के एक भाजपा नेता की उम्मीदवारी फिलहाल तय नहीं हो पाई है, लेकिन 2 दिन पहले ही वे आजमशाह चौक क्षेत्र में बड़ी बैठक कर लौट चुके हैं। बसपा व गोंडवाना गणतंत्र पार्टी से जुड़े नेता भी यहां अपने क्षेत्र के मतदाताओं से संपर्क बनाए हुए हैं। विजयादशमी व धम्मचक्र प्रवर्तन दिन महोत्सव के दौरान यहां की विविध बस्तियों में शुभकामना देने के बहाने मतदाताओं से संपर्क किया गया है। जातीय समाज संगठनों के प्रतिनिधियों का भी नागपुर में जनसंपर्क बढ़ने लगा है। विधायक गौतम ने कहा है कि वे केवल मताधिकार का इस्तेमाल करने का आह्वान कर रहे हैं। चुनाव आयोग ने भी कहा है कि मतदान करने व कराने के लिए सभी को योगदान देना चाहिए। 

मतदान करने का आह्वान गौरतलब है कि 28 नवंबर को मध्यप्रदेश में विधानसभा का चुनाव होने वाला है। 2 नवंबर से उम्मीदवारों का नामांकन दर्ज करना आरंभ हो जाएगा। उम्मीदवारों के नामों की घोषणा भी होने लगी है। इस सप्ताह विविध दलों के प्रमुख उम्मीदवारों के नाम सामने आ जाएंगे। मध्यप्रदेश की राजनीति से जुड़े एक जनप्रतिनिधि के अनुसार प्रमुख राजनीतिक दलों ने मतदाताओं से जनसंपर्क की जो योजना बनाई है, उसमें पड़ोसी राज्यों में रह रहे मतदाताओं को भी मतदान केंद्र तक भिजवाने की योजना है। नागपुर में होटल व रेस्टॉरेंट कर्मचारियों में मध्यप्रदेश के रीवा, सतना व सिंगरौली क्षेत्र के नागरिकों की काफी संख्या है। पूजा-पाठ के कार्यों में भी उस क्षेत्र के नागरिक हैं। सिवनी, मंडला, छिंदवाड़ा व बालाघाट क्षेत्र के नागरिक यहां के कारखानों, कंपनियों में कार्यरत हैं। सभी से आह्वान किया जा रहा है कि वे अपने निर्वाचन क्षेत्र में जाकर मतदान करें तथा नाते-रिश्तेदारों को मतदान करने के लिए कहें। 
 

कमेंट करें
f6vZb