comScore

दीपावली के लिए अभी से ट्रेनें हाउसफुल , पुणे, मुंबई की ट्रेनों में नो रूम

दीपावली के लिए अभी से ट्रेनें हाउसफुल , पुणे, मुंबई की ट्रेनों में नो रूम

डिजिटल डेस्क, नागपुर। अभी दिवाली को डेढ़ माह बाकी है। बावजूद इसके ट्रेनें हाउसफुल हो गई है। 22 अक्तूबर से 27 अक्तूबर तक वह 1 नवंबर से 8 नवंबर तक नागपुर-पुणे-नागपुर की महत्वपूर्ण ट्रेनों में नो रुम की स्थिति बनी है। कुछ ट्रेनों में उपरोक्त समय में टिकट मिल भी रही है, तो वह लंबी  वेटिंग लिस्ट की है।

नागपुर शहर के कई लोग पुणे, मुंबई आदि शहरों में नौकरी के लिए तो कई युवा वहां पढ़ाई, प्रशिक्षण आदि के लिए जाते हैं। दिवाली में अधिकांश लोग  अपने घर परिवार के पास लौटते हैं। ऐसे में मुंबई, पुणे से आनेवाली ट्रेनों में दिवाली में टिकट मिलना मुश्किल हो जाता है।  दिवाली से 3 माह पहले से ही टिकटों की बुकिंग जोरों पर शुरू हो जाती है। इस बार भी 28 अक्तूबर को दिवाली रहने से बुकिंग प्रक्रिया एक महीने पहले से ही शुरू हो गई है। जिसका असर यह है, कि वर्तमान स्थिति में पुणे से नागपुर आनेवाली ज्यादातर गाड़ियों में नो रूम की स्थिति हैं।

1 नवंबर से अगले 10 दिनों तक नागपुर से उक्त दिशा में जानेवाली गाड़ियों में नो रुम की स्थिति बन गई है। इसमें पुणे-नागपुर एक्सप्रेस, आजाद हिंद एक्सप्रेस, गरीबरथ, महाराष्ट्र एक्सप्रेस में स्लीपर, एसी में रिग्रेट की स्थिति है। मुंबई की ओर जानेवाली ट्रेन नंबर 12289 दुरंतो एक्सप्रेस, 12105 विदर्भ एक्सप्रेस, 12139 सेवाग्राम एक्सप्रेस, 12809 मुंबई मेल में भी इसी तरह की स्थिति हैं। 11809 कुर्ला एक्सप्रेस, 12101 ज्ञानेश्वरी एक्सप्रेस में लंबी प्रतिक्षासूची में अभी भी कुछ श्रेणियों में टिकटें मिल रही है।

अभी खाली-खाली 
वर्तमान स्थिति में नागपुर स्टेशन से गुजरनेवाली बहुंतांश ट्रेनों की स्थिति खाली हैं। आसानी से यात्रियों को टिकटें मिल रही है। कई गाड़ियों के चार्ट प्रीपेड होने के बाद उनमें स्लीपर व एसी 3 बोगियों में टिकटें आसानी से मिल रही है।

निजी बस चालकों की मनमानी शुरू 
दिवाली को लेकर निजी बसों ने अपनी मनमानी करना शुरू कर दिया है। हाउसफुल ट्रेनों को देखते हुए बस चालकों ने दिवाली के समय की टिकट चार्ज बढ़ा दी है। किराये से दुगना - तीगुना किराया यात्रियों को बताया जा रहा है। हालांकि इन पर किसी तरह का कोई नियंत्रण नहीं है।

कमेंट करें
iWXlF