comScore

आधे हिंदुस्तान में जल कहर जारी, ग्वालियर में बह गई कार, बाढ़ में फंसे उपायुक्त

July 24th, 2018 09:20 IST

हाईलाइट

  • देशभर में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण आधे हिंदुस्तान में बाढ़ के रूप में जल कहर देखने को मिल रहा है।
  • मौसम विभाग ने दिल्ली-एनसीआर में अगले 5 दिनों तक तेज बारिश का अनुमान जताया है।
  • आपदा प्रबंधन फंसे हुए लोगों की मदद करने में जुटी हुई है।

डिजिटल डेस्क, भोपाल। देशभर में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण आधे हिंदुस्तान में बाढ़ के रूप में जल कहर देखने को मिल रहा है। कहीं सड़कें नदियां बनी हुई हैं तो कहीं नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। बारिश की वजह से देश के कुछ राज्यों में तबाही का मंजर भी देखने को मिल रहा है, तो कुछ राज्य भूस्खलन की चपेट में आ गए हैं।

मौसम विभाग ने दिल्ली-एनसीआर में अगले 5 दिनों तक तेज बारिश का अनुमान जताया है। ओडिशा में भी भारी बारिश का कहर बरस रहा है। यहां कई इलाके में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। एक तरफ जहां लोगों के घरों में पानी घुसा गया है, वहीं दूसरी ओर स्कूल-कॉलेज भी बंद नजर आए हैं। आपदा प्रबंधन फंसे हुए लोगों की मदद करने में जुटी हुई है।

ओडिशा के संभलपुर में रविवार को बाढ़ प्रभावित इलाके में एक वृद्ध नदी में फंसे गया था, जिसे रेस्क्यू किया गया। इस घटना का वीडियो भी सामने आया है। जिसमें ओडिशा डिजास्टर रैपिड ऐक्शन फोर्स का एक जवान एक बुजुर्ग को पीठ पर लादकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचा रहा है।

21 जुलाई को भी लगातार बारिश के दक्षिणी ओडिशा ओडिशा में हीराखंड एक्सप्रेस समेत तीन ट्रेन सैलाब में फंस गईं थी। रायगढ़ के मस्कट स्टेशन के पास पटरियां पानी में गुम हो चुकी थी। ऐसा लग रहा था जैसे ट्रेन पानी में तैर रही हो, आगे पूरा रास्ता पानी में ही डूबा दिखाई दे रहा है। हीराखंड एक्सप्रेस यहां खड़ी हो गई थी।

ग्वालियर के नाले में बह गई कार
मध्य प्रदेश के कई शहरों में भी इन दिनों जलकहर देखने को मिल रहा है। ग्वालियर शहर का एक वीडियो सामने आया है, जहां नाले में बाढ़ की वजह से पास खड़ी कार बह गई। ऐसा ही एक अन्य वीडियो मध्य प्रदेश के दमोह से भी आया है, जहां आम लोग जीवन को खतरे में डालकर पुल क्रॉस करने को मजबूर हैं। यह पुल बाढ़ की वजह से पूरी तरह पानी में डूब चुका है।

दमोह में भारी बारिश के कारण आवागमन बाधित हो गया है। यहां आम लोग अपनी जिंदगी को दाव पर लगाकर नदी का पुल क्रॉस करने को मजबूर हैं। दमोह शहर का यह पुल बाढ़ की वजह से पूरी तरह पानी में डूब चुका है। वीडियो में आप साफ देख सकते हैं कि किस तरह से लोग अपनी जिंदगी को खतरे में डालकर पुल पार कर रहे हैं।

बता दें कि पिछले 24 घंटों में मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ में 107 एमएम, ग्वालियर में 62.1 एमएम, जबलपुर में 56.5 एमएम, रीवा में 34.2 एमएम, रायसेन में 28.8 एमएम, दतिया में 25.1 एमएम, सागर में 21.0 एमएम, श्योपुर में 18.0 एमएम, गुना में 11.2 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई है। मौसम विभाग ने आगामी 2 दिनों के लिए भी भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

झारखंड की बाढ़ में फंसा उपायुक्त का काफिला
जलकहर के कारण झारखंड राज्य के कई जिलों की हालत बद से बदत्तर हो गयी है। बाढ़ का जायजा लेने के लिए राउंड लगा रहे नेता और अधिकारी भी सुरक्षित नहीं हैं। ऐसे ही एक मामला टंडवा क्षेत्र से सामने आया है। यहां बाढ़ का जायजा लेने के लिए पहुंचे उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह का काफी घंटों फंसा रहा। प्रखंड के अति उग्रवाद प्रभावित बड़गांव से लौट रहे थे, इसी दौरान घने जंगलों के बीच स्थित गोंदा नाला पर अचानक पानी बढ़ गया।

इसी दौरान उपायुक्त का एस्कॉर्ट वाहन बाढ़ में फंस गया। इसके बाद अधिकारियों ने आनन-फानन में बिना सुरक्षा के डीसी की गाड़ी को वैकल्पिक रास्ते जंगल से बाहर निकाला।

इन इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी
सिक्किम, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, पूर्वी राजस्थान, मध्य महाराष्ट्र, तटीय कर्नाटक के अलग-अलग हिस्सों में अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। दक्षिण पश्चिम मानसून ओडिशा में प्रबल है। आंतरिक ओडिशा में भी भारी बारिश के आसार हैं। झारखंड, उत्तराखंड, पश्चिम मध्यप्रदेश और तेलंगाना के अलग-अलग हिस्से भारी बारिश की चपेट में रहेंगे।

कमेंट करें
r4cSC