शतरंज: भारतीय शतरंज के ग्रैंडमास्टर गुकेश ने लगातार 7वां गेम जीता

August 6th, 2022

हाईलाइट

  • भारतीय शतरंज के ग्रैंडमास्टर गुकेश ने लगातार 7वां गेम जीता

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। शतरंज ओलंपियाड में किसी भी ग्रैंडमास्टर के लिए सात में से सात मैच जीतना कोई छोटी उपलब्धि नहीं है, लेकिन यह उपलिब्ध 16 वर्षीय ग्रैंडमास्टर ने कर दिखाया। 16 वर्षीय ग्रैंडमास्टर का नाम डी. गुकेश है, जो प्रतिष्ठित खिताब पाने वाले दुनिया के सबसे कम उम्र के लोगों में से एक हैं।

और हां! तमिल फिल्म के नायक रजनीकांत सिल्वर स्क्रीन पर कई शानदार कारनामों के लिए जाने जाते हैं। मुकेश के पिता डी. रजनीकांत कान, नाक और गले के सर्जन हैं।

इसके अलावा, गुकेश के पसंदीदा शतरंज खिलाड़ी अमेरिका के पहले विश्व शतरंज चैंपियन स्वर्गीय बॉबी फिशर और भारत के पहले विश्व शतरंज चैंपियन वी. आनंद हैं। भारत-2 टीम के शीर्ष बोर्ड में खेलते हुए, गुकेश ने मौजूदा शतरंज ओलंपियाड में अपने सभी सात गेम जीते हैं और यहां तक कि ग्रैंडमास्टर एलेक्सी शिरोव को भी पछाड़ दिया है।

भारत शतरंज कोच ग्रैंडमास्टर विष्णु प्रसन्ना ने आईएएनएस को बताया, गुकेश एक शांत युवा खिलाड़ी हैं। वह एक बहुत ही सुलझे हुए खिलाड़ी हैं। रजनीकांत के अनुसार, उनका बेटा गुकेश दिमाग को स्वस्थ्य रखने के लिए अच्छा व्यंजन लेते हैं। कई घंटे खेल के लेख पढ़ने और उनका विश्लेषण करने में बिताते हैं और आध्यात्मिक संगीत भी सुनता हैं।

शुक्रवार को गुकेश ने 2,684 की ईएलओ रेटिंग (2,700 से अधिक की लाइव रेटिंग) के साथ क्यूबा के ग्रैंडमास्टर अल्बोर्नोज कैबरेरा कार्लोस डैनियल को 2,566 की ईएलओ रेटिंग के साथ हराया।

सोर्सः आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.