पैरालंपिक (कैनोइंग स्प्रिंट) : प्राची यादव फाइनल में पहुंचीं

September 4th, 2021

हाईलाइट

  • मध्य प्रदेश के भोपाल की 26 वर्षीय प्राची पोलियो से ग्रस्त हैं

डिजिटल डेस्क, टोक्यो। भारतीय कैनोइंग स्प्रिंट प्राची यादव ने शुक्रवार को यहां चल रहे टोक्यो पैरालंपिक आयोजित सेमीफाइनल रेस में तीसरे स्थान पर रहते हुए महिला वा सिंगल 200 मीटर वीएल 2 के फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया है। प्राची, जिन्होंने शुक्रवार को पहले सेमीफाइनल की दौड़ में तीसरा स्थान हासिल करके फाइनल के लिए क्वालीफाई किया था।

उन्होंने फाइनल में 1:07.329 का समय तय किया पर ग्रेट ब्रिटेन की एम्मा विग्स से 10.301 सेकंड पीछे रहीं, जिन्होंने 200 मीटर का कोर्स 57.028 सेकंड में पूरा किया। ऑस्ट्रेलिया की सुसान सीपेल ने 1:01.481 मिनट में रजत और ग्रेट ब्रिटेन की जीनत चिपिंगटन ने 1:02.149 मिनट में कांस्य पदक हासिल किया।

मध्य प्रदेश के भोपाल की 26 वर्षीय प्राची पोलियो से ग्रस्त हैं, जिसकी वजह से उनकी कमर के नीचे के हिस्से में लकवा मार चुका है और नाव को हिलाने के लिए अपने ऊपरी शरीर का उपयोग करती हैं। उन्होंने 1 मिनट 07.397 सेकंड का समय लेकर तीसरा स्थान हासिल किया और फाईनल में जगह बनाई। उन्हें सी फॉरेस्ट वाटरवे पर पांच नावों की दौड़ में ग्रेट ब्रिटेन की जीनत चिपिंगटन (1: 01.167) और कनाडा की ब्रायना हेनेसी (1: 06.316) के बाद तीसरा स्थान मिला।

प्राची ने 2018 में पैरा-तैराकी से कैनोइंग स्प्रिंट की ओर रुख किया और अपने कोच मयंक ठाकुर द्वारा डिजाइन की गई एक अस्थायी नाव पर खेल सीखा। वह भोपाल की एक झील में प्रशिक्षण लेती है। वह 2007 से पैरा-स्पोर्ट्स में है, जबसे उन्होंने तैरना शुरू किया था। फाइनल दिन में बाद में आयोजित किया जाएगा।

आईएएनएस