दैनिक भास्कर हिंदी: Murder Case: पहलवान सुशील कुमार की तलाश में दिल्ली पुलिस की छापेमारी, पीड़ितों के बयान दर्ज

May 9th, 2021

हाईलाइट

  • हत्या के मामले में पुलिस ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार की तलाश कर रही
  • मॉडल टाउन थाना पुलिस ने दिल्ली एनसीआर के साथ ही दूसरे राज्यों में छापा मारा
  • पुलिस इस मामले में झज्जर निवासी प्रिंस दलाल (24) को अरेस्ट कर चुकी है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। छत्रसाल स्टेडियम में जूनियर नेशनल चैंपियन रहे सागर पहलवान की हत्या के मामले में पुलिस ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार की तलाश कर रही है। ऐसे में दिल्ली के मॉडल टाउन थाने की पुलिस ने दिल्ली एनसीआर के साथ ही दूसरे राज्यों में छापा मारा। हालांकि पुलिस को सुशील कुमार को कोई भी सुराग हाथ नहीं लगा। सुशील और उनके अन्य साथी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पुलिस इस मामले में झज्जर निवासी प्रिंस दलाल (24) को अरेस्ट कर चुकी है।

बता दें कि यह घटना 4 मई की है। देर रात छत्रसाल स्टेडियम की पार्किंग में पहलवानों के दो गुटों में झगड़ा हुआ था। उसमें तीन पहलवान सागर, सोनू और अमित जख्मी हुए थे। इलाज के दौरान सागर की मौत हो गई थी। इस मामले में सुशील और उसके साथियों का नाम सामने आया था। तभी से पुलिस इन लोगों की तलाश कर रही है। मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस की 12 से अधिक टीमें छापेमारी कर रही है। सुशील की आखिरी लोकेशन हरिद्वार में मिली थी। उसके बाद से लगातार उसका मोबाइल बंद आ रहा है।

पुलिस ने सभी पीड़ितों के बयान भी दर्ज किए है। इस दौरान उन्होंने कहा कि सागर और उनके कुछ दोस्त, जिनमें घायल सोनू महल, जो गैंगस्टर काला जत्थेदी का करीबी सहयोगी है, स्टेडियम के पास सुशील से जुड़े घर में रह रहे थे। उन्हें हाल ही में ये घर खाली करने के लिए कहा गया था और उन्हें जबरदस्ती घर से निकाल दिया गया था। सुशील को बाद में पता चला कि सागर ने अन्य पहलवानों के सामने छत्रसाल स्टेडियम में उसके खिलाफ गलत शब्दों का उपयोग किया और गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी।

वहीं पुलिस को इस मामले में गिरफ्तार आरोपी प्रिंस दलाल के मोबाइल फोन से एक वीडियो क्लिप मिली है। बताया जा रहा है कि इसमें सुशील अपने साथियों के साथ सागर व उसके दोस्तों की पिटाई करते दिखाई दे रहे हैं। पुलिस ने मोबाइल फोन को जांच के लिए एफएसएल भेज दिया है। पुलिस ने सुशील और बाकी आरोपी दोस्तों की सीडीआर भी निकलवाई है। उस दिन उनकी लोकेशन कहां की थी। इसका भी पता लगाया जा रहा है। जिस फ्लैट से सागर और उसके दोस्तों को अगवा कर छत्रसाल स्टेडियम लाया गया था, उस रास्ते में लगे सभी कैमरों की फुटेज भी खंगाली जा रही है।

खबरें और भी हैं...