महाराष्ट्र सियासत : बागी नेताओं को आदित्य ठाकरे का खास संदेश, कहा- जो आना चाहे आ सकता है 

July 24th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र में अपनी सत्ता गंवा चुका ठाकरे परिवार की तरफ से आदित्य ने ये आह्वान किया है कि जो बागी नेता वापस आना चाहता है आ सकता है, उसका स्वागत है। उन्होंने कहा, "असली शिवसेना' पर लड़ाई जारी है। जो लोग हमारे साथ विश्वासघात कर रहे हैं, मैंने उनसे कहा है कि अगर आप वापस आना चाहते हैं, तो दरवाजा हमेशा खुला है।"

बता दे, प्रदेश के मौजूदा मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने करीबन एक महीने पहले शिवसेना से बागी रवैया अपनाते हुए पार्टी के विधायकों के साथ गुट बनाकर और भाजपा के समर्थन से महाराष्ट्र में अपनी सरकार बनाई है। आदित्य ने इस सरकार को 'अवैध और असंवैधानिक' बताया। दरअसल, आदित्य का बयान ऐसे समय पर आया है, जब शिंदे सुप्रीम कोर्ट में शिवसेना पर दावेदारी के लिए याचिका दायर कर चुके है। इससे पहले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एकनाथ शिंदे को 'पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल' होने पर सभी पार्टी पदों से हटा दिया। 

हम जनता के साथ 

बागी नेताओं के साथ संपर्क में पूछे जाने पर आदित्य ने कहा कि वह सिर्फ लोगों के संपर्क में है ना कि बागी नेताओं के। हालांकि, मुख्य पार्टी के बाद अब आदित्य के नेतृत्व में भी सेंध लगती हुई नजर आ रही है। हाल ही में उनकी अगुवाई में काम करने वाली शिवसेना की युवा विंग में नेता मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के समर्थन में खुलकर सामने आ गए। इससे पहले मुंबई मेट्रोपोलिटन एरिया की महानगरपालिकाओं से बड़ी संख्या में कॉर्पोरेटरों ने एकनाथ शिंदे को समर्थन देने का ऐलान किया था वहीं युवा सेना के सचिव और ठाणे महानगरपालिका से पार्षद पुर्वेश सरनाइक पहले ही शिंदे खेमे में शामिल हो चुके हैं। 

खबरें और भी हैं...