उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022: योगी के बाद अखिलेश लड़ सकते हैं चुनाव , संशय के बीच सपा में जारी है मंथन

January 19th, 2022

हाईलाइट

  • अभी आजमगढ़ लोकसभा सीट से सांसद है अखिलेश

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने चुनावी दंगल में उतरने का मन बना लिया है। सूत्रों के हवाले से ये बताया जा रहा है कि पूर्व सीएम अखिलेश यादव विधानसभा से चुनाव लड़ेंगे।  कयास लगाए जा रहे हैं कि अखिलेश आजमगढ़, कन्नौज या पूर्वांचल कि किसी भी सीट से चुनाव लड़ सकते है। अखिलेश यादव ने आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेस में खुद के चुनाव लड़ने का फैसला आजमगढ़ की जनता पर छोड़ने की बाद की है। वहीं अपर्णा यादव के भाजपा में शामिल होने  पर अखिलेश ने अपर्णा को बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने इसे समाजवादी विचारधारा का विस्तार बताया। आज बुधवार को आयोजित पीसी में अखिलेश यादव ने  कई चुनावी घोषणाएं की,  उन्होंने कहा कि सपा  सरकार बनने पर समाजवादी पेंशन योजना को फिर शुरू किया जाएगा।  उन्होंने पिछली समाजवादी पेंशन 6 हजार को बढ़ाकर 18 हजार रुपए करने की बात कही। 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के विधानसभा चुनाव लड़ने को लेकर पार्टी के भीतर सीट को लेकर चर्चा तेज होने लगी है, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सपा चीफ आजमगढ़ जिले की गोपालपुर या मैनपुरी जिले की किसी एक विधानसभा सीट से चुनाव लड़ सकते है। पार्टी इन दोनों सीटों के समीकरण पर विचार कर रही है। 

आजमगढ़ की गोपालपुर सीट पर अखिलेश के बेहद करीबी नफीस अहमद विधायक हैं। इस सीट पर चार बार से सपा का कब्जा है। जातीय वोट के लिहाज से इस सीट पर यादव मतदाता बहुतायात में हैं, उसके बाद दूसरे नंबर पर दलित वोट आते हैं, अभी तक के मुकाबलों में इस सीट पर सपा और बसपा में कड़ा मुकाबला होता रहा है। 

 

अखिलेश के चुनाव लड़ने की इन खबरों ने उन तमाम अटकलों भरी सुर्खियों पर विराम चिह्न लगा दिया है। जिन पर अभी चुनाव लड़ने का संशय बनाए रखा था। आपको बता दें अखिलेश यादव अभी आजमगढ़ लोकसभा सीट से सांसद हैं, यदि अखिलेश चुनाव लड़ते है तो उन्हें लोकसभा की सदस्यता त्यागनी होगी। हालांकि सपा की ओर से अभी तक आधिकारिक रूप से कोई घोषणा नहीं की गई है।

 

खबरें और भी हैं...