राजस्थान सियासत: नई कैबिनेट गठन को लेकर कांग्रेस विधायक नाराज!

November 21st, 2021

डिजिटल डेस्क, जयपुर। राजस्थान में रविवार शाम को नई कैबिनेट शपथ लेगी। एक तरफ जहां नई कैबिनेट को लेकर गहलोक तथा सचिन पायलट खुश हैं तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के कुछ विधायक काफी नाराज चल रहे हैं। खबर आ रही है कि कुछ विधायक शिकायत को लेकर जयपुर भी रवाना हो गए हैं। 

विधायकों की नाराजगी की वजह!

बता दें कि रविवार को गहलोत के नए मंत्रिमंडल का विस्तार होने वाला है। इसी को लेकर कुछ विधायक काफी खफा है क्योंकि खबरें आ रही हैं कि कैबिनेट में टीकाराम जूली को कैबिनेट मंत्री बनाए जाने की खबरों से कुछ विधायक नाराज हो गए हैं। इसके बाद विधायक जौहरी लाल मीणा, साफिया ज़ुबैर और बीएसपी से आए दीपचंद खड़िया विरोध जताने जयपुर रवाना हो गए है। टीकाराम जूली मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी माने जाते हैं। दलित समुदाय से आने वाले टीकाराम जूली अभी श्रम राज्यमंत्री थे, जिन्हें प्रमोट कर कैबिनेट मंत्री बनाए जाने की संभावना है। टीकाराम अलवर ग्रामीण सीट से विधायक हैं।

कांग्रेस साफ हो जाएगी

बता दें कि विधायक टीकाराम को कैबिनेट मंत्री बनाए जाने पर अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए जौहरी लाल मीणा ने कहा कि रविवार को अलवर जिले के लिए काला दिवस है क्योंकि अलवर जिले के सबसे भ्रष्ट विधायक को कैबिनेट मंत्री बनाया जा रहा है। इसके बाद कांग्रेस साफ हो जाएगी। 

रविवार शाम होगा शपथ ग्रहण समारोह

 गौरतलब है कि शनिवार को गहलोत मंत्रिमंडल के सारे मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद ऐलान किया गया कि कुल 15 विधायक नए मंत्रीपद की शपथ लेंगे। आपको बता दें कि नए कैबिनेट में 12 नए चेहरे शामिल किए गए हैं। तीन राज्य मंत्रियों को प्रमोट कर कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। आज शाम 11 विधायक कैबिनेट और 4 विधायक राज्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे।