दैनिक भास्कर हिंदी: MP: राजा के प्रताप के नाम से मशहूर पूर्व विधायक प्रताप मंडलोई बीजेपी में शामिल, सिंधिया ने दिलाई सदस्यता

December 11th, 2020

डिजिटल डेस्क, भोपाल। राजा के प्रताप के नाम से जाने जाने वाले पूर्व विधायक प्रताप मंडलोई को आखिरककर महाराजा ने तोड़ ही दिया। शुक्रवार को भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया और हितानंद शर्मा ने उन्हें भाजपा की सदस्यता दिलवाई। 

बता दें कि प्रताप सिंह मंडलोई अभी किसी भी पार्टी के सदस्य नहीं थे। एक समय वह कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के सबसे भरोसेमंद विधायकों में शामिल थे। दिग्विजय सिंह के दूसरे कार्यकाल में 1998 में श्री मंडलोई कांग्रेस से विधायक बने थे।

विधायक बनने के बाद प्रताप मंडलोई ने अपनी गाड़ी पर पीछे राजा का प्रताप लिखवाया था। यह इतना ज्यादा चर्चित हुआ की उन्हें इसी नाम से जाना जाने लगा। 2003 के चुनाव में पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया। इसके बाद 2018 का चुनाव वह कांग्रेस से बागी होकर लड़े थे ओर करीब 35 हजार वोट लाए थे। प्रताप मंडलोई उस सौंधिया समाज से आते हैं, जिनके वोट राजगढ़ लोकसभा में सबसे अधिक है। प्रताप मंडलोई के बगावती तेवर काफी समय पहले ही दिखने लगे थे। 

बीजेपी में शामिल होने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर कहा, वरिष्ठ कांग्रेस नेता श्री प्रताप मंडलोई जी ने आज मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी, प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा जी के समक्ष भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इसे रिट्वीट करते हुए शिवराज सिंह चौहान ने कहा, प्रताप मंडलोई जी का बीजेपी परिवार में स्वागत करता हूं।  हम सब मिलकर मध्यप्रदेश की प्रगति व उन्नति तथा जनता के कल्याण के लिए कार्य करेंगे और आत्मनिर्भर एमपी के स्वप्न को साकार करेंगे। 

खबरें और भी हैं...