comScore

चेन्नई के प्रग्गनानंधा ने रचा इतिहास, बने दुनिया के दूसरे सबसे युवा ग्रैंडमास्टर

June 27th, 2018 18:02 IST

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। चेन्नई के रहने वाले प्रग्गनानंधा ने 12 साल की उम्र में पूरी दुनिया में भारत का परचम लहराया है। शतरंज खिलाड़ी आर. प्रग्गनानंधा दुनिया के दूसरे सबसे युवा ग्रैंडमास्टर बन गए हैं। इस लिटिल ग्रैंडमास्टर ने इसका पूरा श्रेय अपनी बहन को दिया है।

12 साल 10 महीने की उम्र में रचा इतिहास

प्रग्गनानंधा ने शतरंज की दुनिया में शनिवार को इतिहास रचा। प्रग्गनानंधा सबसे कम उम्र में ग्रैंड मास्टर बनने वाले दुनिया के दूसरे खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने ये मुकाम 12 साल, 10 महीने और 13 दिन की उम्र में हासिल किया है। 

इटली के ग्रैंडमास्टर को दी मात

प्रग्गनानंधा ने इटली में ग्रेनडाइन ओपन के अंतिम दौर में पहुंचकर यह उपलब्धि हासिल की है। इटली में आयोजित ग्रेडिन ओपन के आठवें राउंड में प्रग्गनानंधा ने इटली के ही ग्रैंड मास्टर मोरोनी जूनियर को हराकर ये उपलब्धि हासिल की है। प्रग्गनानंधा ने 2017 में वर्ल्ड जूनियर में पहला ग्रैंडमास्टर नॉर्म हासिल किया था। दूसरा ग्रैंड मास्टर नॉर्म उन्होंने ग्रीस में हुए क्लोज राउंड रॉबिन टूर्नामेंट में हासिल किया।


3 साल की उम्र से खेल रहे शतरंज

प्रग्गनानंधा ने बताया कि वो जब तीन साल के थे तभी से शतरंज खेलना शुरू कर दिया था। अपनी बड़ी बहन से प्रेरणा लेकर वो इस मुकाम तक पहुंचे हैं। उनकी बहन वैशाली भी शतरंज खेलती हैं। हालांकि मध्यमवर्गीय परिवार होने के कारण उनके पिता नहीं चाहते थे कि बेटा भी शतरंज खेले, क्योंकि इतना खर्च उठा पाना संभव नहीं था, लेकिन प्रग्गनानंधा ने अब अपने घर से लेकर देश का नाम दुनिया में रोशन कर दिया है। 

विश्वनाथन आनंद और राहुल गांधी ने भी दी बधाई 

देश के पहले ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद ने प्रग्गनानंधा को बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट में लिखा है, क्लब में स्वागत है। जल्द ही चेन्नई में मुलाकात होगी।वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर उन्हें बधाई दी है।


 

पहला सबसे छोटी उम्र का ग्रैंड मास्टर

दुनिया में सबसे कम उम्र में ग्रैंडमास्टर बनने का रिकॉर्ड उक्रेन के सर्जेई करजाकिन के नाम है। सर्जेई ने ये खिताब 1990 में 12 साल 7 महीने की उम्र में हासिल किया था, जो कि अभी भी बरकरार है। सबसे कम उम्र में ग्रैंडमास्टर बनने वालों में चौथे नंबर पर भी एक और भारतीय परिमार्जन नेगी का नाम है, जो 13 साल 4 महीने की उम्र में ग्रैंडमास्टर बने थे।


 

कमेंट करें
AmQOn