बेन स्टोक्स की राह पर पांड्या!: हार्दिक पांड्या छोड़ेंगे वनडे क्रिकेट! पूर्व कोच रवि शास्त्री ने किया बड़ा दावा  

July 23rd, 2022

हाईलाइट

  • हार्दिक पंड्या भी बेन स्टोक्स के जैसे वनडे क्रिकेट से दूरी बना लेंगे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने जब से वनडे क्रिकेट को अलविदा कहा है तब से ही क्रिकेट के वयस्त शेड्यूल पर बहस शुरु हो गई है। क्रिकेट से जुड़े कई दिग्गजों ने स्टोक्स के बयान का समर्थन करते हुए क्रिकेट के व्यस्त कार्यक्रम को कम करने की मांग उठाई है। जिससे खिलाड़ी मानसिक और शारीरिक रुप से फिट रह सकें।

इस मामले पर पहले भी अपनी राय रख चुके पूर्व भारतीय कोच रवि शास्त्री ने एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि 2023 वर्ल्ड कप के बाद भारतीय टीम के स्टार आलराउंडर हार्दिक पंड्या भी बेन स्टोक्स के जैसे वनडे क्रिकेट से दूरी बना लेंगे। 

जानिए अपने बयान में क्या बोले शास्त्री

वयस्त क्रिकेट शेड्यूल पर दिए बेन स्टोक्स के बयान का समर्थन करने वाले रवि शास्त्री ने बड़ा बयान देते हुए कहा, खिलाड़ी जल्द ही अपने पसंद के फार्मेट को चुनना शुरु कर देंगे, जिसमे वे खेलना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हार्दिक पंड्या साल 2023 के वर्ल्ड कप के बाद दूरी बना सकते हैं क्योंकि आलराउंडर टी-20 क्रिकेट अधिक खेलना चाहते है और इस विषय पर उनका मन पूरी तरह से स्पष्ट है। 

शास्त्री ने कहा, ''50 ओवर के प्रारूप को पीछे धकेला जा सकता है, लेकिन यह तब भी जीवित रह सकता है। जब आप केवल विश्व कप पर ध्यान केंद्रित करते हैं। आईसीसी के दृष्टिकोण से, विश्व कप को सर्वोपरि महत्व दिया जाना चाहिए, चाहे वह टी20 विश्व कप हो या 50 ओवर का विश्व कप, रुपये को बढ़ाना होगा। टेस्ट क्रिकेट हमेशा रहेगा, क्योंकि यह खेल के लिए महत्वपूर्ण है। कई खिलाड़ी पहले से ही चुन रहे हैं कि वे कौन से प्रारूप खेलना चाहते हैं। हार्दिक पांड्या को लें। वह टी 20 क्रिकेट खेलना चाहता है और उनके दिमाग में साफ है कि 'मैं और कुछ नहीं खेलना चाहता।'' 

पूर्व भारतीय कोच ने आगे कहा, "वह 50 ओवर का क्रिकेट खेलेंगे, क्योंकि अगले साल भारत में एक विश्व कप है। उसके बाद आप उसे उससे दूरी बनाते हुए देख सकते हैं। आप अन्य खिलाड़ियों के साथ भी ऐसा ही होते हुए देखेंगे, वे प्रारूप चुनना शुरू कर देंगे, उनके पास अधिकार है।''

कई दिग्गजों ने किया वनडे क्रिकेट का विरोध 

गौरतलब है कि इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट से रिटायरमेंट के बाद अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि, "क्रिकेटर कोई गाड़ी नहीं की पेट्रोल डाले और शुरु हो गए"। उनके इस बयान का समर्थन करते हुए कई दिग्गज क्रिकेटरों ने क्रिकेट बिजी शेड्यूल को कम करने की बात कही है। रवि शास्त्री और वसीम अकरम जैसे दिग्गजों ने तो वनडे क्रिकेट को ही खत्म करने की मांग तक कर दी है। ताकि खिलाड़ी शारीरिक और मानसिक रुप से स्वस्थ रहे।