दैनिक भास्कर हिंदी: अब क्रिकेट में बदतामिजी नहीं होगी बर्दाश्त, ICC 28 से लागू करेगा नए नियम

September 26th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने क्रिकेट को लेकर नियमों के कई महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं। इन नियमों के अनुसार ग्राउंड पर बदतामिजी करने वाले और नियम तोड़ने वाले खिलाड़ियों को ग्राउंड के बाहर किया जा सकेगा। साथ ही साथ नियमों के बदलाव में अब से बल्ले की लंबाई-चौड़ाई की सीमा और डीआरएस में भी शामिल हैं। यह नियम 28 सितंबर से लागू हो जाएगा। इस तारीख के बाद से जितनी भी सीरीज खेली जाएंगी, वे सभी नए नियमों के साथ ही खेली जाएंगी।

ICC के खेलने के नियमों में ज्यादातर बदलाव एमसीसी द्वारा घोषित क्रिकेट नियमों के बदलाव के परिणामस्वरूप किए गए हैं। हाल ही में अंपायरों के साथ वर्कशॉप पूरी की है, ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि वे सभी बदलावों को समझा लें। उक्त बातें ICC के महाप्रबंधक क्रिकेट ज्योफ अलार्डिस ने कही हैं। उनका कहना है कि यह नियम पहले एक अक्टूबर से लागू किए जाने थे, लेकिन 2 टेस्ट मैच 28 सितंबर से शुरू होंगे, इसलिए इन्हें इसी दिन से लागू करने का फैसला किया गया।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही वनडे-टी20 सीरीज पुराने नियमों के अनुसार ही खेली जा रही है। किंतु न्यूजीलैंड के साथ खेली जाने वाली अगली सीरीज नए नियमों के साथ ही खेली जाएगी। ये सभी नियम आगामी दो टेस्ट सीरीज में प्रभावी होंगे, जब 28 सितंबर-2 अक्टूबर के दौरान दक्षिण अफ्रीकी टीम बांग्लादेश की मेजबानी करेगी और पाकिस्तान संयुक्त अरब अमीरात में श्रीलंका से भिड़ेगा।

ICC ने बताया है, 'बल्ले की लंबाई और चौड़ाई पर रोक बरकरार रहेगी, लेकिन किनारे की मोटाई अब 40 मिमी से ज्यादा नहीं हो सकती और इसकी किनारे की पूरी गहराई अधिकतम 67 मिमी ही हो सकती है. अंपायरों को नया बैट गॉज दिया जाएगा, जिससे वे खिलाड़ियों के बल्ले की जांच सकते हैं।'


नए नियमों के अनुसार...

  • बल्ले के किनारों का आकार और उसकी मोटाई अब सीमित हो जाएगी।
  • रन लेने के दौरान अगर क्रीज पार करने के बाद बल्ला हवा में रहता है, तो बल्लेबाज को रन आउट नहीं दिया जाएगा।
  • अगर एलबीडब्ल्यू के लिए रेफरल 'अंपायर्स कॉल' के रूप में वापस आता है, तो टीमें अपना रिव्यू नहीं गंवाएंगी।
  • टेस्ट मैचों में 80 ओवर के बाद 'टॉप-अप' रिव्यू जुड़ने का मौजूदा नियम खत्म हो जाएगा।
  • डीआरएस को अब T20 इंटरनेशनल में भी अनुमति होगी।
  • ICC ने अंपायरों को हिंसा सहित दुर्व्यवहार करने वाले खिलाड़ी को मैदान से बाहर भेजने का अधिकार भी दिया है।
  • अन्य सभी अपराध पहले की तरह ICC आचार संहिता के तहत आएंगे।
  • भले ही गेंद फिल्डर या विकेटकीपर द्वारा पहने गए हेलमेट से लगकर आए तब भी बल्लेबाज को कैच, स्टंप और रन आउट हो सकता है।
  • अब बाउंड्री पर हवा में कैच पकड़ने वाले फील्डर को बाउंड्री के अदर ही रहकर कैच पकड़ना होगा, नहीं तो उसे बाउंड्री मानी जाएगी।
  • 'हैंडल्ड द बॉल' नियम को हटाकर उस तरीके से आउट होने वाले बल्लेबाज को 'ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड' नियम के तहत आउट दिया जाएगा।