दैनिक भास्कर हिंदी: ट्विटर ने दुती को रिकार्डब्रेकर के तौर पर सम्मानित किया

March 7th, 2020

हाईलाइट

  • ट्विटर ने दुती को रिकार्डब्रेकर के तौर पर सम्मानित किया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ट्विटर बीते कई सालों से सशक्त सार्वजनिक बातचीत का केंद्र रहा है। साथ ही महिला सशक्तिकरण आन्दोलन उसका एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है। यही कारण है कि भारत में 2019 के शुरूआती महीनों (1 जनवरी से 25 फरवरी तक) की तुलना में 2020 के शुरूआती महीनों में महिला दिवस और नारी सशक्तीकरण को लेकर बातचीत में 87 प्रतिशत वृद्धि हुई है।

वैश्विक स्तर पर स्त्रीवाद और समानता को लेकर पिछले तीन वर्षों में 12.5 करोड़ ट्विट किए गए हैं। इन वार्तालापों का अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के साथ गहरा सम्बन्ध है। जैसा की ट्विटर ने देखा है कि पिछले तीन वर्षों में 8 मार्च के दिन और आगे-पीछे ट्विट का परिमाण बढ़ जाता है। इस वर्ष इस दिवस के समारोह के लिए ट्विटर ने एक विशेष इमोजी लॉन्च किया है जिसे हैशटैगएवरीवुमन और हैशटैगप्रत्येकमहिला के साथ ऐक्टिवेट किया गया है।

इस अभियान में भारत के सबसे तेज फर्राटा धाविका दुती चंद सबसे आगे रही हैं। ट्विटर ने दुती को एक रिकार्डब्रेकर के तौर पर पेश किया है। इसका कारण यह है कि एलजीबीटीक्यु प्लस समुदाय से जुड़े होने के बारे में खुलासा करने वाले पहली भारतीय खिलाड़ी होने के नाते वे अनजान राहों और परिस्थितियों से नहीं डरतीं हैं और स्पोर्ट्स में लैंगिक पक्षपात के समाधान हेतु ट्विटर हैंडल का इस्तेमाल करती हैं।

पिछले साल समर वल्र्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में पहला स्थान हासिल करने के बाद दुनिया को संबोधित उनका यह ट्विट कि पुल मी डाउन, आई विल कम बैक स्ट्रांगर! सबसे ज्यादा रीट्विट किया जाने वाला ट्विट था। दुती ने ट्विटर द्वारा मिले इस सम्मान को लेकर कहा, भारत और विश्व के मेरे शुभचिंतकों ने मुझे अपनी पसंद के बारे में ग्लानिराहित होने के लिए प्रेरणा और शक्ति दी है। मुझे अपने प्रशंसकों और दोस्तों से जुड़ने और अपनी कठिन परिश्रम के बारे उन्हें बताने में खुशी मिलती है। मुझे उम्मीद है कि भारतीय स्त्रियां खुद के बारे में बोलने और सम्पूर्ण भारत के लोगों तथा अधिकारियों का समर्थन पाने के लिए ट्विटर का इस्तेमाल करेंगी।