comScore

अगले 12 महीनों में अनिश्चित्ता रहेगी सबसे बडी चुनौती : रीड

July 25th, 2020 14:05 IST
अगले 12 महीनों में अनिश्चित्ता रहेगी सबसे बडी चुनौती : रीड

हाईलाइट

  • अगले 12 महीनों में अनिश्चित्ता रहेगी सबसे बडी चुनौती : रीड

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अब से ठीक एक साल बाद भारत की महिला एवं पुरुष हॉकी टीम टोक्यो ओलम्पिक की तैयारियां करेंगी। महिला टीम नीदरलैंड्स का सामना करेगी तो पुरुष टीम न्यूजीलैंड टीम का सामना करेगी। टोक्यो ओलम्पिक इस साल होने थे लेकिन कोविड-19 के कारण इसे एक साल के लिए स्थगित कर दिया गया है। अब यह खेल 23 जुलाई से आठ अगस्त 2021 के बीच खेले जाएंगे।

पुरुष टीम के कोच ग्राहम रीड ने कहा है, खेल जगत में ओलम्पिक खेल सबसे मुश्किल खेल है और इसलिए खिलाड़ी की मानसिकता भी ऐसी होनी चाहिए। खिलाड़ी के तौर पर सबसे बड़ी चुनौती अपने काम पर फोकस करने की होती है। पहले मैच में काफी सारी भावनाएं जुड़ी होंगी। जो खिलाड़ी इन भावनाओं को नियंत्रित कर लेंगे और रणनीति पर चलते रहेंगे वह आगे जाएंगे।

खेल में हर विभाग में सुधार की गुंजाइश है लेकिन रीड का ज्यादा जोर मानसिक मजबूती पर है ताकि इस मुश्किल समय से पार पाई जाए। उन्होंने कहा, हमारे लिए अगले 12 महीनों में जो सबसे बड़ी चुनौती है वो है अनिश्चित्ता। कई ऐसी चीजें हैं जिन पर हमारा नियंत्रण नहीं है। हमें सिर्फ उन चीजों के बारे में चिंता करनी चाहिए जो हमारे नियंत्रण में हैं।

उन्होंने कहा, हम इस बात पर नियंत्रण कर सकते हैं कि हम कितनी मेहनत करते हैं, हम कैसे ट्रेनिंग करते हैं, कैसे अपनी फिटनेस को बनाए रखते हैं। आने वाले समय में मानसिक फिटनेस बड़ा फैक्टर रहेगी और भारतीय खिलाड़ियों में मुश्किल परिस्थितियों से जूझने की क्षमता है। यह मेरी इच्छा है कि मैं अपने खिलाड़ियों की मानसिक मजबूती की समझ को विकसित करूं।

कमेंट करें
uxwZL