comScore

विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप : मंजू रानी फाइनल में, मैरी कॉम, जमुना बोरो, लवलिना को कांस्य

विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप : मंजू रानी फाइनल में, मैरी कॉम, जमुना बोरो, लवलिना को कांस्य

हाईलाइट

  • विश्व चै​म्पियनशिप में अब भारत को मिले तीन कांस्य पदक
  • मंजू ने थाईलैंड की चुथामाथ काकसात को 4-1 से हराया

उलान उदे (रूस), 12 अक्टूबर (आईएएनएस)। छठी सीड भारत की मंजू रानी ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए यहां जारी विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में प्रवेश कर लिया है। पहली बार विश्व चैंपियनशिप में भाग ले रही मंजू ने शनिवार को सेमीफाइनल में 48 किलोग्राम वर्ग में थाईलैंड की चुथामाथ काकसात को 4-1 से हराया। मंजू ने थाईलैंड की मुक्केबाज को 29-28, 30-27, 29-28, 28-29, 29-28 से मात दी और भारत के लिए इस प्रतियोगिता का पहला रजत पदक पक्का किया।

वहीं भारत की जमुना बोरो को यहां जारी विश्व महिला मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में 54 किलोग्राम भार वर्ग के सेमीफाइनल में चीनी ताइपे की हूआंग सियाओ-वेन के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। टॉप सीड और एशियाई खेलों की पूर्व कांस्य पदक विजेता हूआंग सियाओ-वेन ने जमुना को 5-0 से करारी शिकस्त दी और फाइनल में जगह बनाई। इस हार के साथ ही जुमना को इस प्रतियोगिता में कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा। चीनी ताइपे की खिलाड़ी पहले राउंड से ही जमुना पर हावी नजर आई और पांच जजों ने 29-28, 29-28, 30-27, 30-27, 30-27 से उनके पक्ष में फैसला सुनाया।

भारत की लवलिना बोरगोहेन को यहां जारी विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप में 69 किलोग्राम भारवर्ग के सेमीफाइनल में शनिवार को हार का सामना करना पड़ा। लवलिना को सेमीफाइनल में चीन की यांग लियू के खिलाफ करीबी मुकाबले में 2-3 से हार झेलनी पड़ी। इस हार के बार लवलिना को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप में लवलिना का यह लगातार तीसरा कांस्य पदक है।लवलिना से पहले मैरी कॉम और जमुना बोरो को भी सेमीफाइनल में अपने-अपने भार वर्ग के मुकाबले में हार कर कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।  

कमेंट करें
W0ed4