comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

जम्मू-कश्मीर: शोपियां मुठभेड़ में 3 आतंकवादी ढेर, अंसार गजवा-तुल-हिंद का टॉप कमांडर घिरा

जम्मू-कश्मीर: शोपियां मुठभेड़ में 3 आतंकवादी ढेर, अंसार गजवा-तुल-हिंद का टॉप कमांडर घिरा

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों से मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन अज्ञात आतंकवादी मार गिराए हैं। हालांकि इस दौरान तीन जवान घायल हुए हैं। जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एक जवान की हालत गंभीर बताई जा रही है। ऑपरेशन अब भी जारी है।

सूत्रों का कहना है कि अंसार गजवा-तुल-हिंद का टॉप कमांडर भी इस मुठभेड़ में घिरा हुआ है। अंसार गजवा तुल हिंद जैश-ए-मोहम्मद का ही एक अंग है। इस ऑपरेशन को सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम अंजाम दे रही है।

बता दें कि इससे पहले गुरुवार को आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच गोलाबारी हुई। पुलिस और सेना के संयुक्त दल ने इलाके की घेराबंदी की और वहां आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में विशेष जानकारी के आधार पर तलाशी अभियान चलाया। जैसे ही सुरक्षा बल उस स्थान पर पहुंचे, वहां छिपे आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद जवानों ने मोर्चा संभाला और तीन आतंकियों को मार गिराने में सफलता पाई। फिलहाल मुठभेड़ जारी है।

कश्मीर में मौजूद आतंकियों ने मलिक को भेजा था जम्मू
उधर, इस्लामिक स्टेट जम्मू-कश्मीर आतंकी संगठन का पकड़ा गया कमांडर मलिक उमैद अपने हैंडलर से व्हाट्सएप कॉल के माध्यम से संपर्क में था। कश्मीर में मौजूद आतंकियों ने ही उसे हथियार लेने जम्मू भेजा था।

कश्मीर में मौजूद और पाकिस्तान में बैठे आतंकियों के कहने पर उसने ऐसा किया था। उमैद से पूछताछ करने पर यह पता चला है कि जम्मू बस स्टैंड पर एक व्यक्ति ने उसे हथियार और नकदी दी थी। यह व्यक्ति जम्मू-कश्मीर के बाहर का भी हो सकता है। उक्त व्यक्ति की तलाश में पुलिस पंजाब सहित अन्य राज्यों में भी दबिश देकर तलाश कर रही है। लेकिन अभी तक उसका पता नहीं चला है। 

पुलिस ने उमैद से उक्त व्यक्ति का स्केच बनवाकर कई जगहों पर भेजा है, ताकि उसकी पहचान की जा सके। सूत्रों का कहना है कि पुलिस इस मामले में शामिल कुछ और लोगों को भी पकड़ने की तैयारी में है। इनकी पहचान कर ली गई है। तीन से चार दिन में पुलिस इस मामले में अधिकारिक तौर पर बड़ा खुलासा कर सकती है। कुछ जगहों पर ओजी वर्करों के पकड़े जाने और उनसे हथियारों की बरामदगी करने की तैयारी है। डीएसपी परोपकार सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही पूरे मामले की जांच का खुलासा करेंगे।

कमेंट करें
Wrx5h