दैनिक भास्कर हिंदी: मनीष पॉल को टाइपकास्ट जैसे शब्द में यकीन नहीं

May 31st, 2020

हाईलाइट

  • मनीष पॉल को टाइपकास्ट जैसे शब्द में यकीन नहीं

डिजिटल डेस्क, मुंबई, 31 मई (आईएएनएस)। टेलीविजन मेजबान और अभिनेता मनीष पॉल का कहना है कि उन्हें टाइपकास्ट शब्द पर यकीन नहीं है और उन्हें जो भी काम मिलता है, उसमें वह अपनी सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुति देते हैं। जब मनीष पॉल से पूछा गया कि क्या मजाकिया आदमी के रूप में टाइपकास्ट होने का उन्हें डर नहीं है, तो उन्होंने इस पर खुलकर चर्चा की।

मनीष ने आईएएनएस को बताया, मैं टाइपकास्ट शब्द पर यकीन नहीं करता, जो कोई भी टाइपकास्ट करना चाहता है, वह स्वतंत्र महसूस कर सकता है। हम एक लोकतंत्र में हैं, लेकिन मैं वही करता हूं, जो मुझे पसंद आता है। इसलिए होस्टिंग अपनी जगह है, अब यह फिल्म (व्हाट इफ) अपनी जगह है। मैंने ब्लैक ब्रीफकेस नाम की एक फिल्म की, जो पूरी थ्रिलर थी। मैंने मिक्की वायरस नाम की एक फिल्म भी की थी, जो एक कॉमिक थ्रिलर थी।

उन्होंने आगे कहा, यह फिल्म व्हाट इफ एक थ्रिलर फिल्म है। यानी अलग-अलग श्रेणी अलग गेम। जो भी काम मेरे पास आता है, मैं बस अपना सर्वश्रेष्ठ देता हूं। स्क्रीन पर अपनी समझदारी और हास्य के लिए लोकप्रिय मनीष को हाल ही में व्हाट इफ में देखा गया, जो एक फोन पर शूट की गई लघु फिल्म थी। फिल्म का सह-निर्देशन कार्तिक सिंह और मनीष ने किया है।