comScore

अजब-गजब: 37 साल बाद एयरपोर्ट पर लैंड हुआ विमान, 20वीं सदी की सबसे विचित्र घटनाओं में से एक

अजब-गजब: 37 साल बाद एयरपोर्ट पर लैंड हुआ विमान, 20वीं सदी की सबसे विचित्र घटनाओं में से एक

डिजिटल डेस्क। वैसे तो दुनिया में रहस्यमयी खबरों की कोई कमी नहीं है, पूरी दुनिया रहस्यों से भरी पड़ी है। पर कुछ रहस्य ऐसे भी हैं कि जिनको समझ पाना असंभव ही लगता है। हम आज आपको एक ऐसी ही आश्चर्यजनक कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसे जानकर आप हैरान हो जाएगें। जिस रहस्य के बारे में आज हम बताने जा रहे हैं वह एक फ्लाइट के गायब होने से जुड़ा हुआ है। फ्लाइट नंबर 513 जो कि सेंटियागो एयरलाइंस का एक यात्री विमान था। साल 1954 में सेंटियागो एयरलाइंस के इस विमान ने पश्चिमी जर्मनी के आकिन एयरपोर्ट से उड़ान भरी, लेकिन तब तक कोई नही जानता था कि ये घटना इतिहास में दर्ज हो जाएगी।

आपने सही सुना 04 सितंबर 1954 को 92 यात्रियों के साथ ये विमान लापता हो गया था। फ्लाइट नंबर 513 को अपने टेकऑफ के 18 घंटे बाद ब्राजील के पोर्टो एलेग्रे एयरपोर्ट पर लैंड करना था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। विमान उड़ान भरते ही आसमान में गायब हो गया। लाख प्रयोसों के बाद भी एयर ट्रेफिक कंट्रोलर से इस विमान से कोई संपर्क नहीं हो पाया था। तथा एयरलाइंस कंपनी भी इस विमान का पता लगाने में पूरी तरह असमर्थ रही।

92 यात्रियों से भरे विमान के गायब होने की खबर तब तक पूरी दुनिया में फैल चुकी थी, इस खबर ने हंगामा मचा दिया। दुनिया की कई जानी मानी खुफिया एजेंसियां विमान का पता लगाने में जुट गयी थी। लेकिन विमान को ढ़ूढ़ने में असफल रहीं। लोगों ने यह अंदाजा लगाना शुरू कर दिया कि, यह विमान आसमान में ही क्रेश हो गया होगा या फिर अटलांटिक महासागर में गिर गया होगा, और विमान में सवार सभी 92 यात्रियों की मौत हो गई होगी। लेकिन कहीं पर भी विमान का मलबा नहीं मिल सका। खोजी टीमों ने विमान का पता लगाने के लिए दिन रात एक कर दिया था। लेकिन उनके हाथ कोई भी सुराग नहीं लगा। बताया जाता है कि, जब विमान से संपर्क टूटा था तब विमान अटलांटिक महासागर के ऊपर उड़ान भर रहा था।

कहते हैं न कि दुनिया में चमत्कार कभी भी हो सकता है
विमान गायब होने के कुछ सालों बाद एक चमत्कार हुआ इस घटना के 37 साल बाद पोर्टो एलेग्रे एयरपोर्ट पर कंट्रोल पॉवर में ड्यूटी करने वाले कंट्रोलर्स ने अचानक से एक बड़ा सा विमान अपनी रडॉर सीमा में आते देखा जो बिना किसी इजाजत के एयरपोर्ट पर लैंड करने जा रहा था। यह सब देखकर एयरपोर्ट के अधिकारियों में हड़कंप मच गया। अधिकारियों ने वॉयस रेडियो के द्वारा मैसेज करके जल्दी से उस रनवे को खाली करा दिया। जहां इस विमान को लैंड करवाना था। थोड़ी देर में ही विमान सुरक्षित रूप से रनवे पर लैंड हो गया। जब अधिकारियों ने इस विमान को देखा तो उस पर सेंटियागो एयरलाइंस का नाम और नंबर था। यह विमान दिखने में काफी पुराना और मानो किसी दूसरी दुनिया से आया हुआ लग रहा था। ये देख कर एयरपोर्ट के अधिकारी घबरा गए। बाद में बातचीत के दौरान पायलेट ने बताया कि खराब मौसम कि वजह से वह विमान गलत डायेरेक्शन में चला गया था।

लैंडिंग करने के कुछ समय बाद कर्मचारी कुछ समझ पाते इससे पहले ही वो प्लेन फिर से उड़ान भरते हुए आसमान में कहीं गायब हो गया। इसके बाद दोबारा से विमान का कोई पता नहीं चल पाया। लापता हुए विमान की खोज के लिए आज भी कई तरह की कोशिशें की जा रही हैं। आपको बता दे कि साल 1989 में वर्ल्ड टैबलॉयड मैग्जीन ने इस विमान के बारे में पहली बार छापा था। वजह जो भी हो ये घटना आज भी लोगों के लिए रहस्यपूर्ण पहेली बनी हुई है।

कमेंट करें
Nn6dh