अजब-गजब: जाने अमेरिका में चमगादड़ों की वजह से कैसे हुई 5 लोगो की मौत

January 12th, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पिछले साल चमगादड़ों की वजह से पांच लोगों की मौत के बाद सी डी सी प्रमुख चिकित्सा संस्थान ने चेतावनी जारी कर दी है। बताया जा रहा है की अमेरिका में रेबीज़ खतम हो चुका है, यहां साल में दो या तीन केस ही सामने आते है लेकिन उसमे भी मौत नहीं होती है पर इन पांच मौतों कारण रेबीज बताया जा रहा है। वैसे तो हमने सुना है की कुत्ते के कटने के बाद रेबीज होता है, पर यहां पर चमगादड़ों की बात हो रही है। आइए जानते है की रेबीज और चमगादड़ों की एक साथ क्यों बात हो रही है 

Nipah virus kills nine in Kerala, India

सेंटर फॉर डिजिस कंट्रोल एवं प्रिवेंशन की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल जो पांच मौतें हुई उनमें से तीन लोगों की मौतें 35  दिनों के अंदर हुई। जबकि पिछले दो सालों की रिपोर्ट में रेबीज का एक भी केस नहीं आया। सी डी सी की रिपोर्ट ये भी बताती है की पिछले एक दशक में पिछले साल रेबीज की सबसे ज्यादा केसेज देखने में आए हैं। ये मौतें 28 सितंबर से 3 नवंबर के बीच हुई। 

Bat | San Diego Zoo Animals & Plants

सी डी सी की रिपोर्ट के अनुसार संक्रमण के बाद या पहले तीनों लोगों को लगने वाली वैक्सीन के लक्षण  पोस्ट एक्सपोजर प्रोफाइलेक्सिस भी दिखाई नहीं दिए। लेकिन पिछले साल हुई मौतों को देखते हुए उन्होंने जागरूकता बढ़ा दी है। थोड़ी जानकारी के लिए बता दे तो रेबीज सिर्फ कुत्तों से ही नही फैलता, चमगादड़ों से भी फैलता है। रेबीज फैलाने वाले बैट्स को  रेबीज बैट्स कहा जाता है। 

Bat Week an opportunity to separate fears from facts - AgriLife Today

सी डी सी की 2007 की रिपोर्ट्स चमगादड़ों के मामले कुम बताती है, वहीं 2022  और 2020  में तो कोई मामला नहीं देखा गया। लेकिन पिछले साल पांच मौत को देखकर सी डी सी ने सारे लोगों में जागरूकता बढ़ाने का फैसला किया है।  रेबीज एक ऐसा वायरस है को रैबिड जानवरों के कटने या खरोंचने से फैलता है, जो हमारे नर्वस सिस्टम पर असर करता है।

5 people died Rabies Bat

रयान ने बताया की उनके पास आए हुए 70 प्रतिशत रेबीज के मामले चमगादड़ों की वजह से फैलते है, और वह इसीलिए होता है जब वह बिना दस्ताने खुले हाथों से चमगादड़ों को पकड़ लेते है।  इसी बीच कई बार चमगादड़ों को सी डी सी जांच के लिए नहीं भेजा जाता है। अगर सभी लोग साथ मिलकर काम करे तो चमगादड़ों की जांच की जा सकती है और जो लोग आज पास है उन्हे भी वैक्सीन दे कर बचाया जा सकता है। 

5 people died Rabies Bat

सी डी सी ने चेतावनी देते हुए लिखा है की चमगादड़ों से दूर रहे आर अगर उन्हें यह  दिखते हैं तो तत्काल स्थानीय स्वास्थ विभाग को जानकारी दे। जानकारी होते हुए भी रेबीज फैलाने वाले जीवों को हाथ न लगाएं ना ही उनके पास जाने का प्रयास करे। रेबीज से दूर रहने के लिए पालतू जानवरों को डॉक्टर के पास ले जाकर इंजेक्शन लगाएं और अगर हो सके तो खुद भी वैक्सीन ले और लोगों को भी ऐसा करने के लिए समझाएं। जंगली जानवरों से दूर रहिए उनसे भी रेबीज का खतरा हो सकता है।

Alarm in Gorakhpur after bats drop dead - The Statesman