• Dainik Bhaskar Hindi
  • Ajab Gajab
  • The manager kept watching and the thieves took away thousands of crores from the bank, know the story of the world's biggest bank robbery

अजब-गजब: मैनेजर देखता रहा और बैंक से हजारों करोड़ लूटकर ले गए चोर, जानें दुनिया की सबसे बड़ी बैंक डकैती की कहानी

November 8th, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दुनिया में वैसे तो एक से बढ़कर एक बैंक डकैती हुईं हैं लेकिन जिस डकैती के बारे में हम आज बात करने वाले हैं उसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे। गिनीज बुक में दर्ज दुनिया की इस सबसे बड़ी बैंक लूट में चोर बैंक के मैनेजर की सामने हजारों करोड़ रुपये ले गए थे।

इराक में हुई थी यह घटना

यह बैंक रॉबरी इराक की राजधानी बगदाद में हुई थी। दरअसल, बात साल 2003 की है जब अमेरिका ने इराक पर कब्जा करने की योजना बना ली थी। किसी भी समय अमेरिका इराक पर हमला कर सकता था। अमेरिका समेत कई पश्चिमी देशों के इराक पर बैन लगाने के चलते राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन की हालत खराब थी और वह कमजोर पड़ते हुए नजर आ रहे थे। इन सब संभावनाओं के बीच देश की राजधानी बगदाद में अमेरिकी प्लान को फेल करने की योजना बनाई जा रही थी। ये योजना थी इराक के सबसे बड़े बैंक 'सेंट्रल बैंक' को लूटने की।

मैनेजर के सामने घटना को दिया अंजाम

अमेरिका ने इराक पर कब्जा जमाने के लिए साल 2003 में 'ऑपरेशन इराकी आजादी' के नाम से अपना ऑपरेशन शुरु किया था। इसके गठन के बाद से साफ हो गया था दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका इराक पर कभी भी कब्जा जमा सकता है। ऐसे में सद्दाम हुसैन और उनके समर्थक इसे लेकर काफी परेशान थे। उनकी परेशानी की सबसे बड़ी वजह देश के पैसा पर अमेरिका द्वारा कब्जा करना था। ऐसे में सद्दाम हुसैन के बेटे कुसय ने अमेरिकी मंसूबों पर पानी फेरने के लिए इस बैंक को लूटने की योजना बनाई। बैंक से सारे पैसे लूटने की इस योजना पर रातों-रात काम हुआ। 

इस डकैती के मास्टर माइंड कुसय ने अपने बेहद विश्वसनीय लोगों के साथ इसकी स्क्रिप्ट तैयार की। जिसके अनुसार वह अपने साथियों के साथ सेंट्रल बैंक पहुंचे और वहां मौजूद बैंक के मैनेजर को उन्होंने एक पर्चा दिया। इस पर्चे में लिखा था, 'राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन की तरफ से सुरक्षा कारणों से बैंक के सारे पैसों को दूसरी जगह ले जाने का आदेश है'।

बैंक मैनेजर के सामने ले उड़े 7 हजार करोड़ रुपये

सद्दाम के नाम का पर्चा जैसे ही बैंक के मैनेजर को मिला, उसने बैंक के सारे दरवाजे खोल दिए। मैनेजर ने बैंक के कर्मचारियों से बैंक में रखी सारी करंसी कुसय के लाए हुए ट्रक में भरने का आदेश दिया। कर्मचारियों ने ट्रक में तब तक पैसा डाला जब तक वो पूरी तरह से भर नहीं गया। उन्हें इस काम को अंजाम देने में पांच घंटे से ज्यादा का समय लग गया। इसके बाद कुसय और उसके साथी पैसों से भरे ट्रक को वहां से ले गए। बता दें कि बैंक से जो रकम लूट कर ले जाई गई, वह भारतीय करंसी के मुताबिक करीब 7 हजार करोड़ रुपये से भी अधिक थी। 

सीरिया पहुंची लूट की रकम, अमेरिका हुआ आग बबूला

इस घटना की खबर सुनकर अमेरिका आगबबूला हो गया। उसने इराक पर बमबारी शुरु कर दी औॅर सेंट्रल बैंक समेत कई जगहों पर कब्जा जमा लिया। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी क्योंकि इस घटना को अंजाम देने वाले सद्दाम हुसैन के बेटे कुसय और उसके साथी लूट का सारा पैसा लेकर सीरिया जा चुके थे। हालांकि अमेरिका ने उनकी खोज हर तरफ की और बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन चलाया। जिसके तहत सद्दाम हुसैन के इराक व देश के अन्य भागों में स्थित घरों व कार्यालयों पर छापे मारे गए लेकिन हर जगह से अमेरिकी सेना को नाकामयाबी ही मिली। 

दुनिया की सबसे बड़ी बैंक डकैती, गिनीज बुक में दर्ज है रिकॉर्ड 

यह दुनिया में अब तक की सबसे बड़ी बैंक डकैती है, जो कि गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है। कहा जाता है डकैती की यह रकम 920 मिलियन डॉलर थी यानी करीब 7065 करोड़ रुपये थी।