comScore

आतंक फैला रही साधना पटेल, उम्र कम पर इरादे खूंखार ; डकैतों से रहा है पुराना नाता

September 01st, 2018 18:00 IST
आतंक फैला रही साधना पटेल, उम्र कम पर इरादे खूंखार ; डकैतों से रहा है पुराना नाता

डिजिटल डेस्क, सतना। तराई में लम्बे समय बाद कोई महिला डकैत ने आतंक मचाया है। महज 22 साल की साधना उर्फ बेलिया पटेल शुरू से ही स्वक्छन्द स्वभाव की रही है। उसके गांव में डकैतों का आना-जाना बना रहता था, पिता की मौत के बाद उसकी मां और पुलिस मुठभेड़ में मारे गए 85 हजार के इनामी डकैत चुन्नीलाल पटेल के घनिष्ठ सम्बन्ध बन गए थे। लगभग 2 साल पहले साधना की नजदीकी सेजवार गांव के डकैत नवल धोबी से बढ़ गई, पर तब वह सीधे तौर पर जंगल में नहीं उतरी थी। गैंग की कमान संभालने के बाद नवल अक्सर उसे अपने साथ रखता था पर वारदात के दौरान घर भेजा देता था, लेकिन जब पुलिस ने गैंग लीडर को सलाखों के पीछे भेज दिया तो उसके इशारे पर गैंग के बचे सदस्यों दीपक व रावेन्द्र को उकसाकर  तराई में फिर सक्रिय कर दिया।

वहीं बंशीपुर निवासी छोटू उर्फ ज्ञानेन्द्र को भी अपने जाल में फंसाकर बंदूक थमा दी। एक तरह से पूरे गिरोह की मास्टरमाइंड बनकर दहशत की नई इबारत लिखने पर आमादा हो गई है दस्यु सुन्दरी। उससे डेढ़ दशक पहले संता खैरवार की प्रेमिका रानी गोंड का आतंक तराई में व्याप्त था, जिस पर पुलिस ने 5 हजार का इनाम रखा था। उसके बाद भी डकैतों की कई प्रेमिकाएं रहीं, लेकिन किसी ने बंदूक नहीं थामी।

मां ने छोड़ा गांव
10 हजार की इनामी हो चुकी दस्यु सुन्दरी साधना पटेल की कुंडली खगालने पुलिस टीम बगहियापुरवा पहुंची तो ज्ञात हुआ कि उसकी मां गांव छोडकऱ जा चुकी है। परिवार में 5 चाचा हैं, जिन्होंने साधना से किसी प्रकार का संबंध ना होने की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया। इस बात ने पुलिस की भी चिंता बढ़ा रखी है कि परिवार से अलग होकर महिला डकैत और खूंखार हो सकती है।

डकैत दीपक और रावेन्द्र पर डबल होगा इनाम
चित्रकूट के जंगलों में सक्रिय हुए नवोदित गिरोह के 2 डकैतों पर इनाम की राशि डबल करने का प्रस्ताव जिला मुख्यालय से आईजी के पास भेज दिया गया है। जिस पर जल्द ही निर्णय लिया जा सकता है। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह गौर ने बताया कि सलाखों के पीछे भेजे जा चुके गैंग लीडर नवल धोबी के साथ शिक्षकों के अपहरण समेत कई अपराधों में सहभागी रहे 10 हजार के इनामी दीपक शिवहरे निवासी सेजवार और अजय उर्फ रावेन्द्र धोबी निवासी खारी की गतिविधियों को देखते हुए इनाम की राशि 20 हजार करने का प्रस्ताव भेजा गया है।

इस गैंग ने पालदेव से छोटेलाल सेन का अपहरण किया था, जिसमें बंशीपुर निवासी छोटू उर्फ ज्ञानेन्द्र पटेल व एक मवासी के अलावा 22 साल की साधना पटेल उर्फ बेलिया पुत्री स्वर्गीय होरीलाल पटेल निवासी बगहिया का पुरवा थाना कर्वी-कोतवाली जिला चित्रकूट शामिल थे। इन सभी के खिलाफ नयागांव थाने में आईपीसी की धारा 364ए, 342, 149, 120बी तथा 25/27 आर्म्स एक्ट व 11-13 एडी एक्ट का मुकदमा पंजीबद्ध किया गया था। वारदात में शामिल 2 सहयोगी पकड़े जा चुके हैं। इस मामले के बाद एसपी ने साधना, छोटू व एक अन्य पर भी 10-10 हजार का इनाम घोषित कर दिया था। बीते 27 अगस्त को भरतकूप चौकी के मुकुन्दपुर इलाके में 4-5 व्यापारियों और बाइक सवार दम्पति से मारपीट कर नगदी, मोबाइल, लैपटाप और गहने लूटने में भी इस गिरोह का नाम सामने आया था। हालांकि पीडि़तों ने डकैतों को पहचानने से इंकार कर दिया था।

कमेंट करें
S3wv8