बच्चे बोले-कुछ देर के बाद उल्टी के साथ होने लगी थे दस्त, डॉक्टरों ने कहा सभी की हालत खतरे से बाहर : मध्यान्ह भोजन में कढ़ी- भजिया खाने के बाद 57 बच्चोड्ड की हालत बिगड़ी

September 8th, 2022


डिजिटल डेस्क कटंगी,नांदी,तिरोड़ी। मध्यान्ह भोजन में मही की कढ़ी के साथ चना दाल के बेसन का भजिया खाने से स्कूल में अध्यनरत करीब 57 बच्चो की हालत बिगड़ गई जिन्हें उपचारार्थ कटंगी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 28 बच्चो की हालत में सुधार है, जबकि 29 बच्चो को ग्लूकोज चढ़ाया गया है। घटना कटंगी मुख्यालय से करीब 14 किमी दूर शासकीय माध्यमिक शाला गर्रा गोसाई में गुरूवार 8 सितंबर की दोपहर करीब 2 बजे की बताई जा रही है। अस्पताल में भर्ती बच्चो का कहना रहा कि जैसे ही उन्होने मध्यान्ह भोजन किया उसके कुछ देर बाद ही पेट में मरोड़ के साथ दस्त के साथ उल्टी होने लगी थी। बच्चो की हालत को देखते हुए आनन-फानन में स्कूल प्रबंधन द्वारा बच्चो के परिजनो को सूचना दी और स्कूल प्र्रबंधन द्वारा बच्चो को 108 एम्बुलेंस के जरिए उपचार के लिए कटंगी लाया गया।   
मेन्यू की आधार पर परोसा था भोजन
इधर, दूसरी तरफ स्कूल प्रबंधन ने जानकारी देते हुए बताया कि गुरुवार को मेन्यू के आधार पर मिड डे मिल में कढ़ी भजिया परोसा गया जिसे खाने के बाद सभी बच्चों में अचानक से उल्टी दस्त और पेट दर्द की शिकायत शुरू हो गई। बड़ी संख्या में बच्चों की तबीयत बिगड़ते देख बच्चों के माता-पिता को इसकी सूचना दी गई और बच्चों को कटंगी अस्पताल में भर्ती कराया गया।
डॉक्टर बोले- सभी की हालत ठीक
अस्पताल में बच्चो का उपचार कर रहे चिकित्सकों का कहना रहा कि भर्ती सभी बच्चो की हालत ठीक है। भजिया के कच्चा होने एवं मही खराब होने की वजह से पेट दर्द एवं दस्त की संभावनाओं से प्रथम दृष्टया इंकार नही किया जा रहा है। हालाकि पुलिस ने स्कूल पहुंचकर मध्यान्ह भोजन का सैम्पल जांच के लिए लिया है। जांच के बाद भी इस बात का पता चल पाएगा।
मौके पर पहुंचे अफसर और जनप्रतिनिधि
इधर,घटना की जानकारी मिलने पर जिला पंचायत सदस्य श्रीमती केसर बिसेन, एसडीएम कामिनी ठाकुर, एसडीओपी माणिक मणि कुमावत एवं अन्य अधिकारी अस्पताल पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया
ये बच्चे उपचारार्थ भर्ती
उपचारार्थ भर्ती सभी बच्चो की उम्र करीब 8 से 14 साल के करीब है। भर्ती बच्चो में प्रमुख रूप से आयुष पिता मारूति उम्र 10 वर्ष, लक्ष्य पिता मुकेश उम्र 10 वर्ष, आर्या पिता संजय भारती उम्र 10 वर्ष, नमन पिता विजय शरणागत उम्र 11 वर्ष, टीना पिता बलराम सोनवाने उम्र 10 वर्ष, आंशी पिता निलेश बोपचे उम्र 11 वर्ष, सानिया पिता युषी खान उम्र 12 वर्ष, संतोषी पिता मुकेश उम्र 11 वर्ष, आरूषी पिताम मारूति सैयाम उम्र 12 वर्ष, देविका पिता आशीष परते उम्र 8 वर्ष, दीपिका पिता दिपेन्द्र सरोदे उम्र 8 वर्ष, कशिश पिता शिवदयाल 12 वर्ष, दिव्या पिता शिवप्रसाद राहंगडाले 11 वर्ष, आयुष पिता राहुल 12 वर्ष, युवराज पिता फतेसिंग 11 वर्ष, नयन पिता राजकुमार सोनवाने 10 वर्ष, दिपिका पिता मोहनसिंह 11 वर्ष, शिवराम पिता जयसिंग 7 वर्ष, हिमांशु पिता सोमतलाल 10 वर्ष, अंश पिता दिनेश 10 वर्ष, मोहित पिता रामदयाल 12 वर्ष, आदित्य पिता फतेसिंग 10 वर्ष, आर्या पिता राहुल 10 वर्ष, अनिकेत पिता लक्ष्मण 11 वर्ष, विशाल पिता डुलीचंद 12 वर्ष इनके अलावा अन्य बच्चे शामिल है।
इनका कहना है
हम लोग उमरी निरीक्षण में गए थे। जैसे ही जानकारी मिली तुरंत 108 एम्बुलेंस को बुलाएं एवं बच्चों को अस्पताल में भर्ती करवाया। बच्चों द्वारा खाए गए खाद्य पदार्थ कढ़ी भजिया एवं उसमें उपयोग होने वाले तेल का सैंपल ले लिया है, उसकी जांच कराने के बाद बच्चों के अभिभावकों और बच्चों तथा शिक्षकों के बयान लेंगे एवं इसकी जांच की जाएगी।
रविंद्र हरिनखेडे बीआरसी विकासखंड कटंगी
मैं तिरोड़ी तहसील बैठक में थी जैसे ही मुझे स्कूल से कॉल आया तुरंत मैंने जनशिक्षक बीआरसी एवं बच्चों के माता पिता को सूचना दी एवं बच्चों को एंबुलेंस के माध्यम से सरकारी अस्पताल कटंगी भर्ती करवाया।
ममता वासनिक प्रभारी प्राचार्य गर्रागोसाई