दैनिक भास्कर हिंदी: मोबाइल नहीं दिया तो किशोर ने लर ली खुदकुशी, तेज रफ्तार वाहन की चपेट में आकर बच्ची की मौत

January 1st, 2019

डिजिटल डेस्क, पुणे। गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं दिया, तो निराश होकर 13 साल के किशोर ने घर में फांसी लगा खुदकुशी कर ली। सोमवार को धनकवड़ी इलाके में दर्शन मनिष भुतड़ा नामक लड़के ने आत्महत्या की। घटना को लेकर पुलिस ने मामला दर्ज किया है। जानकारी के अनुसार दर्शन अपने परिवार के साथ धनकवड़ी स्थित गणेश नगर में रहता था। उसके पिता निजी कंपनी में काम करते हैं, जबकि मां बैंक के कलेक्शन का काम करती हैं। दर्शन को मोबाइल पर गेम खेलने की लत लगी थी। उसकी यह लत छुड़ाने के लिए उसके माता-पिता ने मोबाइल देना बंद कर दिया था। इस बात से निराश होकर दर्शन ने बेल्ट की सहायता से फांसी लगा ली।

कार की टक्कर से बच्ची की मौत
तेज रफ्तार से जा रही कार की जोरदार टक्कर लगने से छह वर्षीय बच्ची की मौत हो गईं। मंगलवार दोपहर करीब सवा तीन बजे पिंपले गुरव इलाके में हादसा हुआ। पुलिस ने बताया कि लावण्या सचिन कड़लग नामक बालिका की मौत हो गई। घटना को लेकर सांगवी पुलिस थाने में उसके पिता ने शिकायत दी है। जिस अनुसार कार चालक दिलीप खंडू शिंदे (31, पिंपले गुरव) को गिरफ्तार किया है। सोमवार दोपहर लावण्या घर के सामने दोस्तों के साथ खेल रही थीं। उस वक्त वहां से तेज रफ्तार कार की चपेट में आ गई। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गईं। उसे तत्काल अस्पताल भर्ती कराया गया, लेकिन इलाज से पहले ही उसकी मौत हो गई थी। घटना की जानकारी जैसे ही सांगवी पुलिस को मिली पुलिस के दस्ते ने शिंदे को गिरफ्तार कर उसकी कार जब्त की।