comScore

पेटीएम केवाईसी के बहाने बुजुर्ग को चूना लगाने वाले आरोपी गिरफ्तार

पेटीएम केवाईसी के बहाने बुजुर्ग को चूना लगाने वाले आरोपी गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पेटीएम केवाईसी (नो योर कस्टमर) के बहाने 73 साल के बुजुर्ग को 1 लाख 70 हजार रुपए का चूना लगाने वाले तीन आरोपियों को डीबी मार्ग पुलिस ने गिरफ्तार किया है। छानबीन में खुलासा हुआ है कि ठगी करने वाला यह गिरोह झारखंड के जामतारा इलाके से ठगी की वारदात को अंजाम देता है। आरोपियों के पास से पुलिस ने ऐसे 70 मोबाइल फोन बरामद किए हैं जो इसी तरह लोगों को चुना लगाकर हासिल हुए पैसों से खरीदे गए थे। 

गिरफ्तार आरोपियों के नाम नरसी सुथार, नंदकिशोर सुथार और पुखराज सुथार है। विलेपार्ले इलाके में रहने वाले अनिल शाह नाम के एक बुजुर्ग कारोबारी ने मामले में शिकायत दर्ज कराई थी। शाह के मुताबिक उन्हें 17 दिसंबर को एक संदेश मिला जिसमें लिखा गया था कि उनका पेटीएम अकाउंट बंद हो रहा है और अगर इससे बचना है तो अपनी पहचान साबित करने के लिए केवाईसी करनी पड़ेगी। इसके बाद शाह से जानकारियां हासिल कर उन्हें 1 लाख 70 हजार का चूना लगा दिया गया। इस रकम में से 50 हजार रुपए के कैश वाउचर खरीदे गए जिसे गिरोह से जुड़े अरविंद सिंह नाम के शख्स को वाट्सएप के जरिए भेजा गया और फिर बिगबाजार और आरसिटी मॉल से छह मोबाइल हैंडसेट खरीदे गए।

सीनियर इंस्पेक्टर सूर्यकांत बांगर ने बताया कि आरोपियों के पास से जो 70 मोबाइल बरामद किए गए हैं वे डिब्बाबंद हैं और बिल के साथ हैं। आरोपी दूसरे लोगों को यह मोबाइल थोड़ी कम कीमत पर आसानी से बेंच देते थे। बांगर ने बताया कि जामतारा के आईसीआईसीआई बैंक के खाते में ठगी की रकम ट्रांसफर की गई थी उसे डेबिटफ्रीज करा दिया गया है। पुलिस अब भी झारखंड में बैठे गिरोह के सरगना की तलाश कर रही है।     

कमेंट करें
NdzO2