comScore

बंगाल की पश्चिम मध्य खाड़ी में दबाव का क्षेत्र बन रहा है, अगले 24 घंटों के दौरान इसके एक गहरे दबाव में बदलने से और अधिक तीव्र होने की संभावना है

October 12th, 2020 16:04 IST
बंगाल की पश्चिम मध्य खाड़ी में दबाव का क्षेत्र बन रहा है, अगले 24 घंटों के दौरान इसके एक गहरे दबाव में बदलने से और अधिक तीव्र होने की संभावना है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय बंगाल की पश्चिम मध्य खाड़ी में दबाव का क्षेत्र बन रहा है; अगले 24 घंटों के दौरान इसके एक गहरे दबावमें बदलने से और अधिक तीव्र होने की संभावना है तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, रायलसीमा और आंतरिक कर्नाटक में अलग-अलग स्थानों पर भारी से अत्यधिक भारी बारिश होने की संभावना है पश्चिम मध्य और बंगाल की उत्तर पश्चिमी खाड़ी से सटे इलाकों, बंगाल की दक्षिण-पश्चिमी खाड़ी और ओडिशा के साथ-साथ आंध्र प्रदेश-तमिलनाडु और पुदुचेरी तथा मन्नार की खाड़ी में समुद्र में तेज लहरें उठ सकती हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के चक्रवात चेतावनी विभाग के अनुसार: उपग्रह आधारित नवीनत तस्वीरों और क्षेत्र में उपलब्ध जहाजों तथा समुद्री संकेतों पता चला है कि कल पूर्व मध्य में कम दबाव वाला क्षेत्र बना था और बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी से सटे पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक दबाव का क्षेत्र बन रहा है। यह आज यानि 11 अक्टूबर, 2020 को भारतीय समयानुसार 0530 बजे 15.3 ° अक्षांत और देशांतर 86.5 ° ई, लगभग 430 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में विशाखापट्टनम (आंध्र प्रदेश), काकीनाडा (आंध्र प्रदेश) से 490 किमी दक्षिण-पूर्व में और 520 किमी दक्षिण-पूर्व में केंद्रित है। इसके 12 अक्टूबर 2020 की रात के दौरान पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ने और उत्तर आंध्र प्रदेश तट में नरसापुर और विशाखापट्टनम को पार करने की बहुत संभावना है। चेतावनी: (i) बारिश की चेतावनी 11 अक्टूबर 2020 को तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, रायलसीमा और आंतरिक कर्नाटक में अलग-अलग स्थानों पर भारी से अत्यधिक भारी बारिश के साथ तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, रायलसीमा, कर्नाटक और मराठवाड़ा, दक्षिण ओडिशा और दक्षिण छत्तीसगढ़ के अधिकांश इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। 12 अक्टूबर 2020 को तटीय ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, मराठवाड़ा और विदर्भ में अलग-अलग स्थानों पर भारी से अत्यधिक भारी बारिश होने के साथ तटीय ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, मराठवाड़ा और विदर्भ में अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। 13 अक्टूबर 2020 को तटीय ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, मराठवाड़ा और विदर्भ में अलग-अलग स्थानों पर भारी से अत्यधिक भारी बारिश के साथ तटीय ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, मराठवाड़ा और विदर्भ के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। 13 अक्टूबर को उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश के अलग-थलग स्थानों पर अत्यधिक भारी बारिश (प्रति दिन 20 सेमी) होने की संभावना है। (ii) समुद्री तूफान संबंधी चेतावनी 11 अक्टूबर को ओडिशा के साथ-साथ आंध्र प्रदेश-तमिलनाडु और पुदुचेरी में पश्चिम मध्य और बंगाल की उत्तरी खाड़ी से सटे इलाकों में 45-55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती हैं। बंगाल की दक्षिण पश्चिम खाड़ी में 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 40-50 किमी प्रति घंटा की रफ्तार के साथ-साथ ओडिशा के साथ-साथ आंध्र प्रदेश-तमिल नाडु और पुदुचेरी के तटों पर भी हवा चलने की संभावना है। 12 अक्टूबर को पश्चिम बंगाल की पश्चिमोत्तर खाड़ी और उससे सटे पश्चिम, बंगाल की दक्षिण-पश्चिमी खाड़ी में 50-60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। इसके अलावा आंध्र प्रदेश तट के साथ-साथ ओडिशा-तमिलनाडु और पुदुचेरी तटों पर भी55-65 किमी प्रति घंटे से लेकर 55-65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। iii) समुद्र की स्थिति 11 और 12 अक्टूबर 2020 को पश्चिमोत्तर और बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी से सटे इलाकों, दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी और ओडिशा के साथ-साथ आंध्र प्रदेश-तमिलनाडु और पुडुचेरी के समुद्र तटों तथा मन्नार की खाड़ी में और 13 अक्टूबर 2020 को बी मन्नार की खाड़ी स्थित समुद्र में तेज लहरें उठ सकती हैं। (iv) मछुआरों की चेतावनी मछुआरों को सलाह दी जाती है कि वे 11 और 12 अक्टूबर, 2020 को पश्चिम बंगाल की खाड़ी में और पश्चिमोत्तर बंगाल की खाड़ी, दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के साथ-साथ ओडिशा- आंध्र प्रदेश-तमिलनाडु और पुदुचेरी तटों और मन्नार की खाड़ी में ना जाएं। 13 अक्टूबर 2020 को भी मछुआरों को मन्नार की खाड़ी में नहीं जाने की सलाह दी जाती है। कृपया स्थान विशेष पूर्वानुमान और चेतावनी के लिए मौसम ऐप (MAUSAM APP),कृषि सलाह के लिए मेघदूत (MEGHDOOT APP)और बिजली कड़कने संबंधी चेतावनी के लिए दामिनी (DAMINI APP) डाउनलोड करें।

कमेंट करें
7lWjB