दैनिक भास्कर हिंदी: पुलिस कस्टडी में कोर्ट में आरोपियों से मारपीट की कोशिश - आक्रोश में थे वकील 

September 28th, 2019

डिजिटल डेस्क जबलपुर। राँझी के दो आरोपियों द्वारा वकील को धमकी देकर पैसा वसूलने की घटना के मामले में दर्ज किए गए प्रकरण के बाद शुक्रवार को जब आरोपियों को कोर्ट में पुलिस ने पेश किया, तो उनके साथ मारपीट की कोशिश की गई। यह आशंका पहले से ही थी, जिसके चलते भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। कुछ वकील इतने आक्रोश में थे कि वे आरोपियों अनिल कुमार कश्यप एवं विक्की कश्यप से धक्का-मुक्की करने लगे। स्थिति काबू से बाहर होती देखकर पुलिस ने मोर्चा सँभाला और राँझी थाना प्रभारी नीरज वर्मा ने वरिष्ठ वकीलों से मिलकर आक्रोशित वकीलों को शांत कराया । कुछ युवा वकीलों का कहना था कि वे खुद ही आरोपी को सबक सिखाएँगे। 
एक घंटे तक चला हंगामा
 करीब साढ़े 11बजे से शुरू हुआ  हंगामा दोपहर करीब साढ़े 12 बजे तक चलता रहा। इस दौरान कुछ वकील जब नहीं माने, तो उन्हें वहाँ से अलग किया गया । इसी बीच बड़ी संख्या में वकील भी अपने चेम्बरों से बाहर आ गए, वहीं लोगों की भीड़ भी वहाँ जमा हो गई।  जिला अधिवक्ता संघ ने भी इस मामले को गंभीरता से लेकर पुलिस कस्टडी में आरोपियों से मारपीट पर चिंता जताई । उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों में संयम से काम लिया जाना चाहिए। संगीन अपराध हो, तो वे भी आक्रोश को कम नहीं कर पाते हैं। 
सदस्यता कैंसिल होगी 
यदि पुलिस कस्टडी में आरोपी की पिटाई की जाती है, तो उस वकील की सदस्यता 6 माह के लिए निलम्बित की जाएगी और दूसरी बार मारपीट करने पर हमेशा के लिए सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि कोई वकीलों के साथ गंभीर अपराध करता है, तो उस  पर आक्रोश व्यक्त करना सामान्य बात है, लेकिन छोटे अपराधों पर वकीलों का हाथ में कानून लेना ठीक नहीं है। 
सुधीर नायक, अध्यक्ष, जिला बार एसोसिएशन 
 

खबरें और भी हैं...