comScore

अमरावती, रीवा और इंदौर के लिए ट्रेन चलाने बोर्ड ने फिलहाल नहीं दी हरी झंडी

अमरावती, रीवा और इंदौर के लिए ट्रेन चलाने बोर्ड ने फिलहाल नहीं दी हरी झंडी

 डिजिटल डेस्क जबलपुर । अमरावती एक्सप्रेस, रीवा इंटरसिटी के अलावा इंदौर, सिंगरौली, नैनपुर के लिए फिलहाल ट्रेनें नहीं चल पायेंगी। रेल बोर्ड ने अभी तक जबलपुर से और ट्रेनें चलाने के लिए मंजूरी नहीं दी है। इस समय दो ट्रेनें जो कि दिल्ली व भोपाल के लिए चल रही हैं उनमें भी यात्री नहीं मिल रहे हैं। पहले तीन दिन तो इन ट्रेनों को पर्याप्त यात्री मिले लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण आम आदमी बहुत जरूरी न होने पर यात्रा नहीं कर रहा है। यात्रियों की प्राथमिकता अमरावती एक्सप्रेस को लेकर है क्योंकि ज्यादातर मरीज जो कि नागपुर जाकर इलाज कराते थे पिछले ढाई माह से नहीं जा पाये हैं। इसी तरह से जबलपुर से रीवा जाने एवं आने वालों की माँग है कि कम से कम एक ट्रेन जबलपुर से रीवा के बीच चलाई जाये ताकि लोगों को कटनी, सतना, मैहर जाने में दिक्कत न हो। सिंगरौली का तो रेल सम्पर्क ही जबलपुर से टूट गया है।
श्रमिकों का आगे का सफर हुआ आसान 
श्रमिक स्पेशल ट्रेन से रविवार की रात जबलपुर आये 390 यात्रियों को बसों से उनके गंतव्य तक पहुँचाया गया। उनका कहना था कि उनके लिए खाने की व्यवस्था एवं जाने के लिए बस की व्यवस्था से अब वे अपने घर रवाना हो पा रहे हैं। 
मजदूर विरोधी नीतियों का विरोध7 केन्द्र की मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ वेस्ट सेंट्रल एम्पलॉईज यूनियन ने माँग दिवस मनाया। इसके तहत पुरानी पेंशन फिर से लागू करने, महँगाई भत्ता सीज करने का आदेश वापिस लेने, श्रम कानूनों में परिवर्तन और रेलवे का निजीकरण करने को लेकर विरोध किया गया।
इनका कहना है 
दूसरी खेप में ट्रेनें चलाने की तैयारी पूरी है लेकिन अभी रेल बोर्ड से कोई निर्देश नहीं आये हैं।
संजय विश्वास डीआरएम 
 

कमेंट करें
4FZPh