comScore

इंदौर: इलाज के लिए लगाते रहे अस्पताल के चक्कर, बुजुर्ग ने स्कूटी पर तोड़ा दम

इंदौर: इलाज के लिए लगाते रहे अस्पताल के चक्कर, बुजुर्ग ने स्कूटी पर तोड़ा दम

डिजिटल डेस्क, इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर शहर से एक दर्दनाक घटना सामने आई हैं। यहां एक कोरोना संदिग्ध मरीज इलाज के लिए भटकता रहे, लेकिन समय पर उपचार नहीं मिलने से उसकी स्कूटी पर ही मौत हो गई। गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कारण अस्पतालों को अलग-अलग बीमारियों के लिए चिन्हित किया गया है। ऐसे में एक रोगी को लेकर परिजन कई हॉस्पिटल के चक्कर लगाते रहे। कहीं इलाज नहीं मिलने से मरीज की घरवालों के सामने टू-विलर पर ही मौत हो गई।  

मृतक के बेटे ने बताया कि पिता बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन का काम करते थे। उनकी नाम में सीमेंट चले जाने से सांस लेने में दिक्कत आ रही थी। मंगलवार को गाड़ी पर पिता को लेकर अस्पताल के चक्कर लगाता रहा। समय पर इलाज नहीं मिलने से पिता की रास्तें में मौत हो गई। 

लूडो खेलते वक्त छींक आने पर झगड़ा, युवक ने कहा कोरोना दे दूंगा, मारी गोली

बता दें मंगलवार रात तक इंदौर में कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या 544 हो गई है। वहीं भोपाल में 158, जबलपुर में 12, ग्वालियर छह, उज्जैन में 26, मुरैना में 14, खरगोन में 17, बड़वानी में 17, छिंदवाड़ा चार, विदिशा 13, होशंगाबाद 15, खंडवा 15, देवास सात, शाजापुर व रायसेन चार-चार, श्योपुर में तीन, शिवपुरी, मंदसौर, रतलाम सतना में दो-दो और बैतूल, सागर, टीकमग व अन्य राज्य से आए एक-एक मरीजों के नमूने पॉजिटिव पाए गए हैं। जबकि अब तक इंदौर में 37, उज्जैन में छह, भापोल में पांच, खरगोन में तीन और देवास व छिंदवाड़ा में एक-एक मौत हुई है।

कमेंट करें
WFPKb