दैनिक भास्कर हिंदी: बच्चा चोरी के शक में महिला को पीटा, लोगों ने थाना घेरा, लाठी  चार्ज

August 3rd, 2019

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। खितौला थाना क्षेत्र में स्टेशन पर एक महिला को बच्चा चोर समझ कर लोगों ने पहले तो महिला की पिटाई की। फिर उसे पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने कल रात  जब महिला से पूछताछ की और उन्होंने महिला को बच्चा चोर नहीं पाया तो उसे छोड़ दिया। उसके बाद लोगों की भीड़ ने थाना घेर लिया और फिर हंगामा शुरू हो गया। लोगों का आरोप था कि पुलिस ने बच्चा चोर महिला को छोड़ दिया। भीड़ का जब हंगामा बढ़ गया तो पुलिस ने भीड़ को  लाठियों के बल पर खदेड़ दिया। 

भीड़ ने किया पथराव

भीड़ को खदेड़ते ही लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। पास में ही स्टेशन होने के कारण ट्रैक पर पड़ी गिट्टियों की बारिश शुरू हो गई, इसके चलते कई लोगों को मामूली चोटें आईं हैं। रात करीब 11 बजे से शुरू हुआ हंगामा देर रात तक चला। इस दौरान पुलिस और ग्रामीणों के बीच कई बार झड़प की स्थिति बनी। सिहोरा से पुलिस बल भी खितौला भेजा गया। उसके बाद जबलपुर से भी अतिरिक्त बल भेजा । जो लोग थाने का घेराव करने गए थे उनमें बंटू गुप्ता, सतीश अग्रवाल, रोहित पटेल, विनोद सोंधिया, लक्ष्मी बाई, पप्पू, रानी सोंधिया आदि के साथ करीब सौ लोग शामिल थे। इन सभी के खिलाफ बलवा, शासकीय कार्य में बाधा आदि की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। 

चूड़ी बेचने आई थी 

लोगों का कहना था कि इस क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से बच्चा चोरी की अफवाह फैल रही थी और उसी को लेकर महिला को बच्चा चोर समझ लिया गया। पुलिस के अनुसार यह महिला वंदना चौहान अमरावती की रहने वाली है और पति से झगड़ा कर आई थी। वह चूड़ियां बेच कर अपनी आजीविका चला रही थी। उसके बयान की तस्दीक की गई और फिर उसे गोसलपुर थाने भेज दिया गया, ताकि लोग उस पर हमला न कर सकें।

इनका कहना है

बिना सच्चाई को जाने कुछ शरारती तत्वों ने महिला के साथ मारपीट की थी। उसकी जान बचाकर भीड़ को थाने से हटाया गया। इस मामले में अभी तक 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इन लोगों में बट्टू पटेल, निहाल सोंधिया, लक्ष्मीबाई, रानी सोंधिया, रोहित सोंधिया शामिल हैं।  बाकी लोगों की तलाश सीसीटीवी के जरिये की जा रही है।
भावना मरावी, एसडीओपी