दैनिक भास्कर हिंदी:  एनएच-7 पर हादसा : तेज रफ्तार कार की टक्कर से दादा और नाती की मौत

May 28th, 2019

डिजिटल डेस्क सतना। देहात थाना अंतर्गत तिलौरा के पास तेज रफ्तार कार की टक्कर से बाइक सवार दादा की मौके पर मौत हो गई, जबकि 3 वर्षीय नाती ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। पुलिस ने कार चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक तिलौरा निवासी 65 वर्षीय तीरथ वर्मा, अपने नाती को घुमाने के लिए सोमवार सुबह बाइक पर बैठाकर तिलौरा चौराहे की तरफ जा रहे थे। तकरीबन साढ़े 8 बजे जैसे ही राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-7 पर पहुंचे, तभी अमरपाटन की तरफ से आई कार क्रमांक एमपी 04 सीयू 1168 के चालक ने लापरवाहीपूर्वक जोरदार टक्कर मार दी, जिससे बाइक समेत दादा और नाती उछलकर दूर जा गिरे। इस हादसे में गंभीर चोट आने पर तीरथ वर्मा ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया, वहीं मासूम को स्थानीय लोगों की मदद से आनन-फानन सिविल अस्पताल मैहर ले जाया गया जहां उपचार के दौरान उसकी भी सांसें थम गईं। उधर बाइक को टक्कर मारने के बाद बेकाबू कार सड़क से उतरकर खेत में घुस गई। हालांकि चालक और उसमें बैठे लोगों को कोई चोट नहीं आई।
 

45 घंटे बाद मिला किशोर का शव
सिविल लाइन थाना अंतर्गत अहिरगांव से लगी खदान में नहाते समय डूबे 15 वर्षीय किशोर शिवेन्द्र चौधरी का शव 45 घंटे बाद एसडीईआरएफ के जवानों ने चट्टान के नीचे से बरामद कर लिया, जिससे बाहर निकालकर पुलिस को सौंप दिया गया।  किशोर के शव को जिला अस्पताल ले जाकर पोस्टमार्टम कराया गया। सर्च ऑपरेशन के दौरान सीएसपी विजय प्रताप सिंह और थाना प्रभारी दल-बल के साथ पूरे समय अहिरगांव में जमे रहे तो रघुराजनगर तहसीलदार आरपी तिवारी भी वहीं मौजूद रहे। रविवार को एसपी रियाज इकबाल और एसडीएम पीएस त्रिपाठी ने भी मौका-मुआयना किया था। 
 

कलेक्टर ने रेडक्रास से दिलाई सहायता
शव बरामद होने की सूचना पर कलेक्टर डा. सतेन्द्र सिंह मौके पर पहुंच गए। उन्होंने एसडीएम पीएस त्रिपाठी व सीएसपी से घटनाक्रम की जानकारी लेने के बाद मृतक के परिजन से मुलाकात करते हुए घटना पर दुख जताया, साथ ही खराब आर्थिक स्थिति के मद्देनजर अंतिम संस्कार के लिए रेडक्रास सोसायटी की तरफ से 10 हजार रूपए की तात्कालिक सहायता प्रदान कराई। इसके अलावा 4 लाख रूपए की आर्थिक मदद शासन के नियमानुसार देने की बात भी कही।