दैनिक भास्कर हिंदी:  हीरा खनन परियोजना क्षेत्र के कुंए में गिरा तेंदुआ - दिन भर चला रेस्क्यू, नही मिली सफलता

July 23rd, 2021

डिजिटल डेस्क  पन्ना। पन्ना टाइगर रिजर्व के हिनौता रेंज क्षेत्रान्तर्गत स्थित एनएमडीसी हीरा खदान क्षेत्र के एक कुंए में तेंदुए के गिर जाने की जानकारी सामनें आयी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार तेंदुए के कुंए में गिर जाने की जानकारी आज सुबह पन्ना टाईगर रिजर्व प्रबंधनको प्राप्त हुई जिसके बाद पन्ना टाईगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर उत्तम कुमार शर्मा सहित टाइगर रिजर्व के अन्य आला अधिकारी मौके पर पहुंच गये। सूचना पाते ही टाइगर रिजर्व के वन्य प्राणी चिकित्सक डॉक्टर संजीव कुमार गुप्ता सहित रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और कुंए में गिरे तेंदुए को निकालने के लिये रेस्क्यू टीम द्वारा अपने तरीके से युक्तियां लगायी गई। क्रे न में खाट को फंसाकर कुंए में उतारा गया ताकि तेंदुआ उस पर चढ़ जाये परंतु रेस्क्यू टीम को इसमें सफलता हासिल नही हुई। मशीनी तथा अन्य शोरगुल की वजह से कुंए में गिरी तेंदुए को निकालने में सफलता नही मिली। दिन भर रेस्क्यू टीम तेंदुए को निकालने के लिये तरह तरह की युक्ति लगाती रही, परंतु देर शाम तक तेंदुए को कुंए से बाहर निकालने में सफलता प्राप्त नही हुई। अंतत: शाम हो जाने के बाद निर्णय लेते हुये युकेलिप्टस के पेड़ को कुंए में डाल दिया गया है ताकि तेंदुआ उसमें चढकर बाहर निकल सके। रात्री होने की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन इसी उम्मीद के साथ रोक दिया गया है। फील्ड डायरेक्टर उत्तम कुमार शर्मा ने बताया कि चूंकि तेंदुआ काफी शर्मिला होता है इसी वजह से शोरगुल और अन्य लोगो की उपस्थिति की वजह से उसे बाहर निकालने में सफलता नही मिल पायी है। रात्री में उम्मीद है कि डाले गये पेड़ से तेंदुआ बाहर निकल आयेगा और जंगल में चला जायेगा। पूरे घटनाक्रम पर वन विभाग के अमलें द्वारा निगरानी की जा रही है। बताया जा रहा है कि एनएमडीसी हीरा खदान मझगवां के जिस क्षेत्र स्थित कुुुंए में तेंदुआ गिरा है उसके पहले एनएमडीसी की बाउन्ड्री वाल बनी हुई है माना जा रहा है कि छलांग लगाने के बाद पेड़ो से होता हुआ तेंदुआ घिसलते हुये कुंए में गिर गया। अवगत हो कि एनएमडीसी हीरा खदान पन्ना टाइगर रिजर्व के गगंऊ अभ्यारण से लगी है और इस वजह से कई बार जंगली जानवर एनएमडीसी के क्षेत्र तक पहुंच जाते है। एनएमडीसी हीरा खदान बीते कुछ माहों से बंद चल रही है।
 

खबरें और भी हैं...