दैनिक भास्कर हिंदी: विदेशी निवेश के मामले में महाराष्ट्र तीसरे स्थान पर पहुंच गया

December 24th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राज्य में विदेशी निवेश लाने को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के वक्तव्य पर पूर्व मुख्यमंत्री व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने सरकार की चुटकी ली है। उन्होंने कहा है- नया निवेश बढ़ना स्वागत योग्य है, लेकिन यह भी चिंता का विषय है कि विदेशी निवेश के मामले में महाराष्ट्र पहले से तीसरे क्रमांक पर पहुंच गया है। विकास परियोजनाओं के मामले पर शिवसेना पर तंज कसते हुए कहा कि इन परियोजनाओं के मामले में सेना की बदलती भूमिका ठीक ही है। 

बुधवार को पत्रकारों से चर्चा में फडणवीस ने कहा कि 4 साल पहले प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के मामले में महाराष्ट्र देश में पहले स्थान पर था। गुजरात, दिल्ली, कर्नाटक जैसे राज्यों का सकल विदेशी निवेश भी महाराष्ट्र से कम था। हर साल 42 से 44 प्रतिशत तक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश राज्य में हो रहा था, लेकिन अब स्थिति अलग है। भारतीय रिजर्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार 1.19 लाख करोड़ के विदेशी निवेश के साथ गुजरात देश में निवेश के मामले में पहले स्थान पर है। कर्नाटक में 27458 करोड़ का निवेश हुआ है। महाराष्ट्र तीसरे क्रमांक पर है। 

अधिक निवेश लाना चाहिए 

कोरोना को लेकर निवेश की स्थिति बदली है। चीन से निवेश बाहर जा रहा है। विदेशी निवेश के मामले में भारत का आकर्षण है। महाराष्ट्र में अधिक निवेश लाने का काम किया जाना चाहिए। 

विकास परियोजनाओं पर बोलती रही है शिवसेना 

जैतापुर परियोजना को लेकर शिवसेना विधायक के वक्तव्य पर फडणवीस ने कहा कि विकास परियोजनाओं को लेकर शिवसेना की बदलती भूमिका ठीक है। पहले वह परियोजनाओं का विरोध करती थी। रिफाइनरी परियोजना नाडार का भी शिवसेना ने विरोध किया। वह परियाेजना राज्य की जीडीपी बढ़ानेवाली थी। समृद्धि महामार्ग परियोजना को लेकर भी शिवसेना विरोध करती रही। स्थानीय के नाम पर विकास परियोजनाओं का विरोध करती रही। अब उसकी भूमिका बदलती दिख रही है। 

राऊत के वक्तव्य पर प्रतिक्रिया देना उचित नहीं 

एक प्रश्न पर उन्होंने कहा कि राज्य में मंत्री को सरकार के विरोध में प्रदर्शन करना पड़ रहा है। मंत्री को किसान मामले की आवाज उठाने से रोका जा रहा है। सरकार के लाेग ही जवाब दे सकते हैं कि राज्य किस तरह चल रहा है। केंद्र सरकार को लेकर शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत के वक्तव्यों पर फडणवीस ने कहा कि वे राऊत के हर वक्तव्य पर प्रतिक्रिया देना उचित नहीं समझते हैं। 

 

खबरें और भी हैं...