दैनिक भास्कर हिंदी: महोबा: किशोरी को अगवा कर 12 लोगों ने छह महीने तक किया दुष्कर्म

July 5th, 2018

डिजिटल डेस्क, महोबा। उत्तर प्रदेश के महोबा जिलें में एक शर्मसार कर देने वाला मामला प्रकाश में आया है। जिले की एक किशोरी को अगवा कर छह महीने तक 12 दरिंदों ने उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। इतना ही नहीं आरोपियों ने नाबालिग से रेप के बाद उसे बेच भी दिया। पुलिस ने घटना के संबंध में मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों की तलाश में पुलिस ने दबिश देनी शुरू कर दी है। बुधवार को पुलिस ने इस मामले से जुड़े दो आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं एक आरोपी पहले ही जेल जा चुका है। मामले में एक के बाद एक आरोपियों के नाम सामने आने से घटना में शामिल अन्य लोगों में खलबली मची है।


35 हजार रुपए में बेची गई किशोरी

बता दें कि महोबा के एक मोहल्ला की रहने वाली 14 वर्षीय किशोरी छह माह पहले लापता हो गई थी। किशोरी के मामा ने गुमशुदगी की रिपोर्ट शहर कोतवाली में दर्ज कराई थी। पुलिस ने किशोरी की खोज में जब एक्शन लिया तो मुखबिर की सूचना पर आरोपी के साथ किशोरी को सोनकपुरा से बरामद कर लिया। पुलिस एक आरोपी बबलेश को 3 जुलाई को ही जेल भेज चुकी है। पुलिस ने बताया कि किशोरी को ननौरा निवासी अवनीश और बेलाताल निवासी इकरार ने झांसी के सोनकपुरा निवासी बबलेश को 35 हजार रुपए में बेच दिया था। 

 
पुलिस लगातार दे रही दबिश

किशोरी की बरामदगी और बबलेश की गिरफ्तारी के बाद एक दर्जन लोगों के नाम सामने आए हैं। जिनकी पुलिस तलाश में पुलिस जगह जगह दबिश दे रही है। मामले में एक दर्जन लोगों के किशोरी से दुष्कर्म और खरीद फरोख्त में शामिल होने की बात उजागर हुई है। पुलिस तिवारी मार्केट में किशोरी के काम करने वाली जगह पर भी लोगों से पूछताछ कर रही है। कोतवाली प्रभारी विक्रमाजीत सिंह का कहना है कि किशोरी के खुलासे के आधार मामले में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

 

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि आरोपियों ने उसे किडनैप करने के बाद लगातार प्रताड़ित किया, छह महीनों तक उसे अलग-अलग जगहों पर रखा गया और कई लोगों द्वारा उसके साथ रेप किया गया। रोजाना कई लोग उसका सौदा करने आते थे। आरोपियों कई बार उसे बुरी तरह पीटा भी, कई दिनों तक भूखा भी रखा। पुलिस ने पीड़ित किशोरी को मेडिकल के लिए भेज दिया, साथ ही उसे बालिका गृह में भेजा गया है, जहां एनजीओ और डॉक्टरों की टीम काउंसलिंग के जरिए मानसिक स्थिति सुधारने की कोशिश कर रही है।