दैनिक भास्कर हिंदी:  विवाहित युवक ने झांसा देकर युवती से की दूसरी शादी ,बंधक बनाकर किया दैहिक शोषण

June 18th, 2019

डिजिटल डेस्क, सतना। विवाहित युवक ने निजी महाविद्यालय में पढ़ रही छात्रा को प्यार के जाल में फंसाकर घर से भागने पर मजबूर कर दिया और फिर शादी तक हवस का शिकार बनाने लगा। यह सनसनीखेज मामला सिटी कोतवाली में सामने आया, जहां पुलिस ने पीड़िता के बयान पर मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। टीआई विद्याधर पांडेय ने बताया कि 22 वर्षीय युवती 11 जून को घर से कॉलेज आने के बाद लापता हो गई, तब परिजन ने कोतवाली में गुमशुदगी दर्ज कराई तो पुलिस जांच में जुट गई। इसी दौरान साइबर सेल के जरिए युवती की मौजूदगी भोपाल में पाई गई, लिहाजा पुलिस टीम तुरंत राजधानी रवाना हो गई और वहां जाकर स्थानीय पुलिस की मदद से उसे दस्तयाब कर लिया, तब पता चला कि लड़की को अकील खान पुत्र वकील 22 वर्ष निवासी वधुर थाना सलेहा, जिला पन्ना ने बंधक बना रखा है। इस खुलासे पर आरोपी युवक को पकड़ लिया गया, दोनों को सोमवार दोपहर सतना लाया गया। 

दर्ज हुआ मुकदमा

यहां पर युवती ने बयान में बताया कि गांव में दोनों लोग एक साथ पढ़ते थे, बाद में वह उच्च शिक्षा के लिए सतना आ गई। इसी बीच आरोपी अकील ने परिजन की सहमति से विवाह कर लिया लेकिन यह बात छिपाते हुए उसके साथ दोस्ती बनाए रखी और 11 जून को सतना से भोपाल ले गया, जहां शादी कर दैहिक शोषण करने लगा। आरोपी ने उसे घर जाने से भी रोक दिया। पीड़िता के बयान पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376, 366, 506 के तहत कायमी कर जांच की जा रही है, उसे मंगलवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

किराना दुकानदार की पीट-पीट कर हत्या

धारकुंडी थाना क्षेत्र के मुकात गांव में किराना दुकानदार की बेदम पिटाई कर हत्या कर दी गई। इस वारदात से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक घर में ही पान व किराने की दुकान चलाने वाला सुंदर सिंह आदिवासी पुत्र टिराई 50 वर्ष हमेशा की तरह रविवार रात को खाना खाने के बाद बरामदे में चारपाई डालकर सो गया, लेकिन सोमवार सुबह जब उसका बेटा गोपाल बाहर आया तो वह नहीं मिला। इसी दौरान करीब 7 बजे गांव के ही विश्वनाथ कोल ने घर आकर बताया कि सुंदर बेहोशी की हालत में भाईलाल सिंह के खेत पर पड़ा है। यह खेत गांव से लगभग 2 किलोमीटर दूर था। खबर लगते ही परिजन मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना देते हुए तुरंत बिरसिंहपुर अस्पताल ले आए, जहां से डाक्टर ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया लेकिन 11 बजे यहां लाए जाने के कुछ देर बाद ही अधेड़ ने दम तोड़ दिया। तब पंचनामा कार्रवाई कर शव का पोस्टमार्टम किया गया। मृतक के पूरे शरीर में लाठियों से पीटने के निशान थे तो कई जगह से हड्डियां भी टूट गई थीं।
 

खबरें और भी हैं...