comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

जबलपुर हवाई अड्डे का आधुनिकीकरण भीड़भाड़ वाले घंटों में 500 यात्रियों से निपटने की क्षमतानई टर्मिनल बिल्डिंग और रनवे का विस्‍तारस्‍थायी शहरी निकासी प्रणाली के साथ पर्यावरण की दृष्टि से अनुकूल

September 30th, 2020 16:32 IST
जबलपुर हवाई अड्डे का आधुनिकीकरण भीड़भाड़ वाले घंटों में 500 यात्रियों से निपटने की क्षमतानई टर्मिनल बिल्डिंग और रनवे का विस्‍तारस्‍थायी शहरी निकासी प्रणाली के साथ पर्यावरण की दृष्टि से अनुकूल

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। एक बेहतर पर्यटन विकल्प के रूप में बढ़ते शहर की आवश्‍यकताओं को ध्‍यान में रखते हुए, जबलपुर हवाई अड्डे पर यात्रियों की संख्‍या में वृद्धि देखी जा रही है। क्षेत्र के हवाई यात्रियों को बेहतर सेवाएं प्रदान करने के लिए हवाई अड्डे को अब आधुनिक बनाया जा रहा है। हवाई अड्डे पर किए गए आधुनिकीकरण कार्य में नई टर्मिनल बिल्डिंग, एटीसी टॉवर और तकनीकी ब्लॉक, फायर स्टेशन श्रेणी VII, अन्य भवन और रनवे और संबंधित कार्यों का विस्तार शामिल है। राज्य सरकार ने 2015 में विकास कार्य के लिए कुल 775 एकड़ जमीन में से 468.43 एकड़ जमीन भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण (एएआई) को सौंप दी थी। विश्व स्तरीय यात्री सुविधाओं से लैस नए टर्मिनल भवन में भीड़भाड़ वाले समय के दौरान 500 यात्रियों से निपटने की क्षमता होगी। 115180 वर्गफुट क्षेत्र में फैले, टर्मिनल भवन में तीन एयरोब्रिज, सामान स्क्रीनिंग की आधुनिक प्रणाली, प्राकृतिक दृश्‍य के बीच आधुनिक फूड कोर्ट और 250 से अधिक कारों और बसों के लिए सुनियोजित कार पार्किंग होगी। प्रस्तावित टर्मिनल भवन में यात्रियों को जीवंत गोंड चित्रों, स्थानीय हस्तशिल्प, भित्ति चित्रों और मध्य प्रदेश के लोकप्रिय पर्यटन स्थलों की झलक देखने को मिलेगी। नया भवन पर्यावरण अनुकूल चिरस्‍थायी सामग्री के साथ बनाया जाएगा और यह सौर संयंत्र और ऊर्जा कुशल उपकरणों से सुसज्जित होगा। एक कुशल ठोस कचरा प्रबंधन प्रणाली, बागवानी प्रयोजनों के लिए उपचारित जल का पुन: उपयोग और सतत शहरी जल निकासी प्रणाली के साथ वर्षा जल संचयन प्रणाली हवाई अड्डे की आधुनिकीकरण परियोजना की कुछ अन्य प्रमुख विशेषताएं हैं। नए टर्मिनल भवन के निर्माण के अलावा, 412 करोड़ रुपये की परियोजना लागत के साथ आधुनिकीकरण कार्य में एयरबस 320 प्रकार के विमानों के संचालन के लिए हवाई अड्डे को उपयुक्त बनाने के लिए रनवे का विस्तार, सभी आधुनिक सुविधाओं के साथ 32 मीटर ऊंचे नये एटीसी टॉवर और तकनीकी ब्लॉक (जी 2) का निर्माण, फायर स्टेशन (श्रेणी- VII) और अन्य सहायक इमारतें जैसे उपयोगिता ब्लॉक, गेट हाउस आदि भी शामिल है। परियोजना के अगले साल यानी दिसंबर, 2021 तक पूरा होने की उम्‍मीद है और नए टर्मिनल भवन के मार्च, 2022 तक चालू होने की संभावना है। कान्हा राष्ट्रीय उद्यान, बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान, नजदीकी भेड़ाघाट में संगमरमर की चट्टानें और झरने पर्यटकों के आकर्षण का केन्‍द्र है। हवाई अड्डा संपूर्ण मध्य प्रदेश, विशेषकर महाकौशल क्षेत्र की आवश्‍यकताओं को पूरा करेगा। नया आधुनिक जबलपुर हवाई अड्डा जबलपुर शहर के विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा और इस क्षेत्र में पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देगा। टर्मिनल बिल्डिंग-एयर साइड व्‍यू टर्मिनल बिल्डिंग- सिटी साइड व्‍यू टर्मिनल बिल्डिंग-साइड व्‍यू कार्य प्रगति पर *** एमजी/एएम/केपी/डीए (Release ID: 1660156) अभ्यागत कक्ष : 34 Read this releasein: English , Urdu , Manipuri , Tamil , Telugu

कमेंट करें
60uLn
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।