दैनिक भास्कर हिंदी: ट्रेक्टर ट्राली पलटने से मां-बेटे की मौत, बाल-बाल बचे 4 अन्य सवार

June 16th, 2018

डिजिटल डेस्क सतना। लिफ्ट लेकर एक ट्रेक्टर पर ब्ैाठकर घर वापस लौटना इतना मंहगा पड़ा कि इन्हें अपनी जान से हाँथ धोना पड़ा । दर्दनाक बात यह है कि बेटा अपने माता पिता का इकलौता था और ये दोनो माँ बेटे अपने नि:शक्त पिता के एकमात्र सहारा थे । जिले के रामनगर थाना क्षेत्र के गुलवार गुजारा गांव के पास एक सड़क हादसे में मां-बेटे की मौके पर ही मौत हो गई। हादसा एक तेज रफ्तार ट्रैक्टर की ट्राली पलटने से हुआ। हादसे में ट्राली में सवार 4 अन्य लोग बाल-बाल बच गए। इन घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है।

मोड़ में पलटी ट्राली
पुलिस ने बताया कि शुक्रवार की सुबह तकरीबन साढ़े 10 बजे ये हादसा उस वक्त हुआ जब गुलवार गुजारा निवासी भैय्यालाल प्रजापति की 45 वर्षीया पत्नी शांति उसका 14 वर्षीय बेटा पुष्पेन्द्र प्रजापति, लक्षमनिया,अंजली ,पवन और सोनू प्रजापति के साथ ट्रैक्टर की खाली ट्राली में सवार हो कर अपने गांव लौट रहे थे। इसी बीच मुक्तिधाम मोड़ पर अचानक तेज रफ्तार ट्रैक्टर की ट्राली पलटने से शांति प्रजापति और उसके बेटे पुष्पेन्द्र प्रजापति की दबने से मौत हो गई। जबकि ट्राली में सवार अन्य 4 लक्षमनिया,अंजली ,पवन और सोनू प्रजापति दूर जा गिरे। इन सभी को मामूली चोट लगी हैं।



इकलौता बेटा था पुष्पेन्द्र
पुलिस ने बताया कि सड़क हादसे में मृत महज 14 साल का पुष्पेन्द्र अपने माता पिता का इकलौता बेटा था। उसके पिता भैय्यालाल लंबी बीमारी के कारण चलने फिरने में सक्षम नहीं हैं। मां-बेटा गांव से लगभग डेढ़ किलोमीटर दूर एक ईंट भट्टा में मजदूरी करके गुजारा कर रहे थे। शुक्रवार की सुबह मां-बेटा काम पर गए और लौटते समय में उन्हें पदमी गांव के नारायण सिंह परमार का ट्रैक्टर मिल गया। हादसे के वक्त ट्रैक्टर को नारायण सिंह का बेटा सत्यम सिंह चला रहा था। रामनगर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।