दैनिक भास्कर हिंदी: बेटे की जान बचाने माँ ने मौत को गले जगाया, खंभे से टूटकर नीचे गिरा था बिजली का तार 

June 24th, 2019

डिजिटल डेस्क, सतना। रामपुर बाघेलान थाना क्षेत्र के मरौहां में 5 वर्षीय बेटे को विद्युत करंट से बचाने की कोशिश में महिला ने जान गवां दी। इस घटना से गांव में आक्रोश फैल गया तो नाराज लोगों ने एमपीईबी का माधवगढ़ सब-स्टेशन घेरकर ताला जड़ दिया। लगभग 5 घंटे तक चले प्रदर्शन के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने समझाइश दी, तब ग्रामीणों ने कदम पीछे खींच लिए। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक तुलसीदास कुशवाहा का घर ट्रांसफार्मर के पास स्थित है, जहां शनिवार शाम को उसका 5 वर्षीय बेटा सर्वेश खेल रहा था। इसी दौरान एक तार टूटकर उसके पास गिर गया, यह देखकर 10 वर्षीय बहन संजना ने मां कुन्ती कुशवाहा 32 वर्ष को आवाज लगाई, जिसने बाहर आकर अपनी परवाह किए बिना बच्चे को उठाकर दूर फेंक दिया, लेकिन उसका पैर तार में फंस गया जिससे करंट पूरे शरीर में फैल गया और महिला अचेत होकर गिर पड़ी। हल्ला-गोहार सुनकर आई पड़ोसी महिला ने डंडे से तार को हटाया, जिसके बाद परिवार के 2 लोग कुन्ती को बाइक से जिला अस्पताल ले आए जहां डॉक्टर ने देखते ही मृत घोषित कर दिया।

सब-स्टेशन में जड़ा ताला

रविवार सुबह तकरीबन 11 बजे बड़ी संख्या में ग्रामीणजन माधवगढ़ स्थित सब-स्टेशन पहुंच गए, जहां ट्रांसफार्मर व तारों का मेंटीनेंस नहीं होने के चलते हुए हादसे में महिला की जान जाने के लिए एमपीईबी के जेई संजय सिंह समेत मैदानी अमले पर कार्रवाई की मांग की तो मृतका के परिजन को मुआवजा और तुरंत खंभों की संख्या बढ़ाने व झूलती तारों को कसने की बात कही, लेकिन कोई भी विद्युत अधिकारी सामने नहीं आया। लगभग 5 घंटे बाद कोटर तहसीलदार और कोटर जेई ने माधवगढ़ जाकर उचित कार्रवाई और शासन के नियमानुसार मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया तो अंतिम संस्कार के लिए 10 हजार की तात्कालिक सहायता भी प्रदान की, तब जाकर ग्रामीण पीछे हटे और सब-स्टेशन का ताला खोल दिया।

खबरें और भी हैं...