नर्मदा महाआरती में शामिल हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान: संस्कारधानी पर बनी रहे माँ नर्मदा की कृपा, उन्नत हो प्रदेश

January 25th, 2023


डिजिटल डेस्क जबलपुर। माँ नर्मदा की कृपा सदैव संस्कारधानी पर बनी रहे। प्रदेश उन्नति के पथ पर अग्रसर बना रहे। यही मेरी प्रार्थना है। उक्त िवचार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर ग्वारीघाट के उमाघाट में आयोजित नर्मदा महाआरती के दौरान व्यक्त िकए। श्री चौहान शाम 7 बजे ग्वारीघाट पहुँचे। उनके तीन बार ऊँ उच्चारण करने के बाद माँ नर्मदा की महाआरती प्रारंभ हुई। महाआरती के बाद 12 वर्षीय तेजस्वनी दुबे ने माँ नर्मदा को स्वच्छ रखने की शपथ दिलाई। तेजस्वनी पाँच वर्ष की आयु से नर्मदा महाआरती के बाद श्रद्धालुओं को शपथ दिलाने का काम कर रही हैं। अब तक वे 30 लाख लोगों को स्वच्छता की शपथ दिला चुकी हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने तेजस्वनी को स्वच्छता का ब्रांड एम्बेसडर बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने तेजस्वनी को स्वच्छता अभियान का पट्टा और क्राउन पहनाया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कन्या पूजन भी किया।
इसके बाद मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संतों पर पुष्प वर्षा की। इस मौके पर जगद््गुरु राघवदेवाचार्य, जगद््गुरु जयरामजी महाराज, डॉ. स्वामी मुकुंददास महाराज, साध्वी विभानंद गिरी, साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी, साध्वी शिरोमणी दीदी, साध्वी मैत्री दीदी, संत त्रिलोकदास सहित बड़ी संख्या में संत उपस्थित रहे। आयोजन के दौरान लेजर शो और आतिशबाजी भी की गई। नर्मदा महाआरती में मुख्यमंत्री के साथ सांसद राकेश सिंह, राज्यसभा सांसद सुमित्रा बाल्मीकि, विधायक अजय विश्नोई, अशोक रोहाणी, डॉ. जितेन्द्र जामदार, डॉ. अभिलाष पांडे, महेश केमतानी, अमर मिश्रा आदि मौजूद रहे। नर्मदा महाआरती में शामिल होने के बाद मुख्यमंत्री स्व. भूपेन्द्र दुबे के घर पहुँचे और पुष्पांजलि अर्पित कर उनके बेटे मनीष दुबे को सांत्वना प्रदान की।
आज पूर्ण होंगे महाआरती के 11 वर्ष
आज वसंत पंचमी पर ग्वारीघाट में नर्मदा महाआरती के 11 वर्ष पूर्ण होंगे। पं. ओमकार दुबे ने बताया िक आज माँ नर्मदा की विशेष आरती व पूजन किया जाएगा। शाम को जानकी बैंड दल की प्रस्तुति एवं भजन गायक मनीष अग्रवाल अपनी प्रस्तुति देंगे।

खबरें और भी हैं...