comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

मुंबई की आबोहवा सकती है दिल्ली से ज्यादा जहरीली, औद्योगिक इकाईयों में हो रहा कोयले का भारी उपयोग

मुंबई की आबोहवा सकती है दिल्ली से ज्यादा जहरीली, औद्योगिक इकाईयों में हो रहा कोयले का भारी उपयोग

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। मुंबई की आबोहवा दिल्ली से भी विषाक्त हो सकती है, यदि समय रहते इस ओर ध्यान नहीं दिया गया। मुंबई की वायु गुणवत्ता खराब होने के लिए यहां के औद्योगिक इकाईयों में बड़े पैमाने पर कोयले का उपयोग किया जा रहा है। सेंटर फॉर साइंस एंड एनवाइरनमेंट के अनुसार मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन की फैक्ट्रियां हर साल दो मिलियन टन कोयला जलाती है, जो शहर की हवा को जहरीली बना रहे है।

सीएसई ने इस पर किए गए अध्ययन पर मंगलवार को यहां एक रिपोर्ट जारी की है। सीएसई ने अध्ययन के लिए मुंबई की सीमा से लगे 13 औद्योगिक क्षेत्रों में से चार ठाणे, तलोजा, अंबरनाथ और डोबिंवली को चुना था। अध्ययन में यहां के विभिन्न औद्योगिक इकाईयों से फैलने वाले वायु प्रदूषण का गहन मूल्यांकन किया। करीब 70 फीसदी उद्योगों का अध्ययन किया गया, जो एमएमआर में कार्यरत है। अध्ययन के मुताबिक सरकार की निष्क्रियता मुंबई की हवा को दिल्ली से भी विषाक्त बना सकती है। 

कमेंट करें
HjwY9