-शातिर बदमाशों के अवैध कब्जे हटाने पहुँचा प्रशासन मचा हड़कंप: सरकारी जमीन पर चल रही थी देशी कलारी, कब्जे पर चला बुल्डोजर

February 28th, 2022

 डिजिटल डेस्क जबलपुर। बेलबाग थाना क्षेत्र में रहने वाले दो कुख्यात बदमाशों के अवैध कब्जों पर पुलिस-प्रशासन ने बुल्डोजर चलाकर दो करोड़ की सरकारी जमीन मुक्त कराई। बेलबाग टोरिया और भानतलैया चौक पर हुईं इन दोनों कार्रवाइयों के दौरान भारी पुलिस फोर्स के साथ पुलिस-प्रशासन व नगर िनगम के अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे। पुलिस के अनुसार बेलबाग टोरिया िनवासी सावन जाट और प्रीतम सोनकर शातिर अपराधी हैं, िजनका पेशा जुआ फड़ के साथ कई तरह के अवैध काम करना है। सावन जाट पर 21 आपराधिक प्रकरण दर्ज हैं, वहीं प्रीतम सोनकर पर 8 िवभिन्न गंभीर प्रकरण दर्ज हैं। अवैध धंधों के लिए दोनों ने सरकारी जमीन पर कब्जा कर रखा था, जिसके चलते कलेक्टर इलैयाराजा टी, एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा व नगर िनगम कमिश्नर आशीष वशिष्ठ के िनर्देश पर पुलिस-प्रशासन व नगर िनगम की टीमों ने सोमवार की सुबह दोनों बदमाशों के अवैध कब्जे तोड़कर सरकारी जमीन पर कब्जा लिया।
सावन ने तान रखा था दो मंजिला मकान
पहली कार्रवाई बेलबाग टोरिया निवासी सावन जाट के घर पर हुई, जहाँ सावन द्वारा अवैध तरीके से 2500 वर्गफीट शासकीय जमीन पर दो मंजिला मकान बना लिया गया था। सावन आकांक्षा हॉस्पिटल के पीछे बने इस मकान में लंबे समय से जुआ खिलवा रहा था। ओमती सीएसपी आरडी भारद्वाज ने बताया िक सावन के खिलाफ मारपीट सहित जुआ एक्ट के 21 प्रकरण बेलबाग थाने में दर्ज हैं। सावन जाट का मकान सँकरी गली में था, जिसे तोडऩे के लिए जेसीबी और बुल्डोजर ले जाना संभव नहीं था, इसलिए नगर निगम के अमले ने हथौड़े से मकान तोड़ा।
सरकारी जमीन में संचालित थी देशी कलारी
दूसरी कार्रवाई भानतलैया चौक स्थित बदमाश प्रीतम सोनकर के अवैध िनर्माण पर हुई। जहाँ टीम के साथ मौजूद एएसपी क्राइम गोपाल खांडेल ने बताया िक प्रीतम सोनकर ने 1 करोड़ 20 लाख कीमत की करीब 1200 वर्गफीट शासकीय जमीन पर कब्जा कर टीन शेड डालकर देशी शराब की दुकान संचालित कर ली थी। शराब दुकान का लाइसेंस प्रशांत सोनकर के नाम पर था। प्रीतम के अवैध िनर्माण पर कार्रवाई के दौरान एसडीएम ऋषभ जैन, सीएसपी अखिलेश गौर, एमपी प्रजापति, ओमती टीआई एसपीएस बघेल समेत शहर के 10 से ज्यादा थाना प्रभारी, 100 पुलिस कर्मी व ननि अतिक्रमण अधिकारी सागर बोरकर व निगम का दस्ता मौजूद रहा।
फोर्स रहा तैनात, नहीं हुआ िवरोध
सावन जाट और प्रीतम सोनकर दोनों ही कुख्यात बदमाश हैं, जिनके अवैध िनर्माण तोडऩे हेतु की जा रही कार्रवाई के दौरान भारी पुलिस फोर्स तैनात रहा। इसलिए उनके परिजन या गुर्गे किसी तरह का िवरोध नहीं कर सके।