दैनिक भास्कर हिंदी: एमपी सीएम कमलनाथ के बयान से पशोपेश में पड़े महाराष्ट्र कांग्रेस के उत्तर भारतीय नेता

December 21st, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के उत्तरप्रदेश-बिहार के लोगों के रोजगार को लेकर दिए गए बयान से महाराष्ट्र में कांग्रेस के उत्तरभारतीय नेता मुश्किल में पड़ गए हैं। अब उन्हें कोई जवाब देते नहीं सुझ रहा। दूसरी तरफ भाजपा ने कांग्रेस को घेरने के लिए इस मुद्दे को तुल दे रही है। इस बीच शुक्रवार को मुंबई भाजपा युवा मोर्चा ने मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम के खिलाफ शहरभर में होर्डिंग लगा दिए। भाजपाई बिहार के मूल निवासी निरुपम से कमलनाथ के बयान पर जवाब मांग रहे हैं। इस बाबत मुंबई भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष मोहित कंबोज ने संजय निरुपम से सवाल किया है कि कांग्रेसी मुख्यमंत्री कमलनाथ की उत्तर भारतीयों के बारे में की गई अपमानजनक टिप्पणी पर वह अभी तक चुप क्यों हैं? यही सवाल पूछते हुए कंबोज ने मुंबई भर में होर्डिंग लगाए हैं।

एमपी के सीएम के बयान को लेकर निरुपम के खिलाफ भाजपा युवामोर्चा ने शहरभर में लगाए होर्डिंग
कंबोज ने कहा कि संजय निरुपम हर मुद्दे बेबाक बोलने का दावा करते रहे हैं। अपने आप को उत्तरभारतीयों का इकलौता हितैषी होने का भी दावा करते रहे हैं। ऐसे में उन्होंने अब कमलनाथ विवादास्पद बयान पर चुप्पी क्यों साध रखी है। कंबोज ने कहा कि कमलनाथ का बयान यह साबित करता है कि कांग्रेस राज ठाकरे के नक्शे कदम चलते हुए क्षेत्रवाद की राजनीति पर उतर आई है। ऐसे में अगर संजय निरुपम अगर अपने आपको उत्तर भारतीयों का सच्चा हितौषी होने का दावा करते हैं, तो उन्हें कमलनाथ के बयान की सार्वजनिक तौर पर निंदा करनी चाहिए। युवा भाजपा नेता ने कहा कि संजय निरुपम की चुप्पी से यह स्पष्ट है कि मुंबई में कांग्रेस के नेता लोग उत्तरभारतीयों का साथ केवल राजनीति करते आए हैं। शुरू से कांग्रेस ने लोग उत्तर भारतीयों को केवल और केवल वोट बैंक समझते रहे हैं। 

यूपी में जन्मे हैं कमलनाथ: पांडेय
इससे पहले गुरुवार को भाजपा उत्तरभारतीय मोर्चा ने मुंबई कांग्रेस कार्यालय पर मोर्चा निकाला था। मुंबई भाजपा उत्तर भारतीय मोर्चा के अध्यक्ष संतोष पांडेय ने कहा है कि उत्तर भारतीयों के खिलाफ मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे की बयानबाजी पर हमेशा मुखर रहने वाले निरुपम से भाजपा कार्यकर्ताओं ने जवाब मांगा। पांडेय ने कहा कि उत्तरभारतीय समाज कांग्रेस नेताओं की इस तरह की बयानबाजी को बर्दास्त नहीं करेगा। उत्तर प्रदेश के कानपुर में पैदा होने वाले कमलनाथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद इस तरह जहर उगल रहे हैं।