comScore

सिक्युरिटी गार्ड की मौत पर भड़के लोग, चका जाम किया

सिक्युरिटी गार्ड की मौत पर भड़के लोग, चका जाम किया

डिजिटल डेस्क जबलपुर। शहपुरा में एक निजी कम्पनी के गार्ड की कम्पनी के गेट पर ही हाइवा द्वारा कुचल दिए जाने के कारण मौत हो गई। यह घटना कल रात पौने दो बजे की बताई जा रही है। इस हादसे में गार्ड रामनाथ की मौत हो गई। इस मामले में पीएम के बाद जब शव को ले जाया जा रहा था, तो लोगों ने मुआवजे की माँग करते हुए बाँगड़ कम्पनी के सामने ही लाश रखकर एनएच 12 पर जाम लगा दिया। करीब एक घंटे तक  जाम की स्थिति बनी रही। बड़ी मुश्किल से लोग माने और फिर उसके बाद रास्ता खोला। बाँगड़ कम्पनी ने तुरन्त 25हजार रुपए की सहायता तथा तीन लाख रुपए का मुआवजा देने पर सहमति व्यक्त की। प्रदर्शन करने वालों ने 6 लाख रुपए की माँग की थी। इस संबंध में जानकारी मिली है कि भेड़ाघाट थाना क्षेत्र के धरमपुरा में रहने वाला रामनाथ सेन फोन लाइन बाँगड़ कम्पनी में सिक्योरिटी गार्ड का काम करता था। कल रात गिट्टी से भरे ट्रक ने उसे कम्पनी के गेट के पास कुचल दिया था। हाइवा चालक हादसे के बाद फरार हो गया था। रामनाथ की मौत का पता लोगों को शुक्रवार को सवेरे लगा। रामनाथ की मौत को लेकर ग्रामीण शुक्रवार को कम्पनी  के गेट के पास  एकत्र हो गए।  
नारेबाजी कर रोष प्रकट किया 
 लोगों ने  नारेबाजी कर रोष प्रकट किया। इसी दौरान   पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी वहाँ पहुँच गए और उन्होंने बाँगड़ कम्पनी के अधिकारियों से बात की। उसके बाद निर्णय लिया गया कि तीन लाख का मुआवजा दिया जाएगा और तत्काल सहायता में 25 हजार रु. दिए गए। उसके बाद ही दोपहर में चका जाम अलग किया गया। इस दौरान करीब एक किलोमीटर लम्बी लाइन लग गई थी।

कमेंट करें
H2bBd