दैनिक भास्कर हिंदी: जीजा ही निकला सिंगर हर्षिता दहिया का कातिल, कबूला जुर्म

October 21st, 2017

डिजिटल डेस्क, पानीपत। हरियाणा की मशहूर लोकगायिका और डांसर हर्षिता दहिया मर्डर केस में उसके जीजा दिनेश कराला ने जुर्म कबूल कर लिया है कि उसने ही हर्षिता का मर्डर कराया है । बुधवार को दिनेश को पुलिस प्रोटेक्शन वारंट पर झज्जर जेल से लाई थी। इसके बाद कोर्ट में पेश कर 4 दिन की पुलिस रिमांड पर लिया था। बता दें कि हर्षिता की 17 अक्टूबर को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

पानीपत के इसराना थाना एसएचओ नवीन संधु ने बताया कि पूछताछ में दिनेश ने बताया कि उसने जेल से ही हर्षिता के मर्डर की प्लानिंग की थी। उसका कहना है कि हर्षिता की वजह से ही उस पर रेप और फिर हर्षिता की मां के मर्डर का केस दर्ज हुआ था, क्योंकि हर्षिता उस केस की मुख्य गवाह थी।

दिनेश ने बताया है कि उसने हर्षिता को मारने के लिए कई बदमाशों से बात की थी। हालांकि, उसने यह नहीं बताया कि मर्डर किसने किया। दिनेश की बताई हुई बातों के अनुसार पुलिस अब उन सभी बदमाशों के बारे में दिनेश से पूछताछ कर रही है।

हर्षिता की बहन ने लगाया था अपने पति पर आरोप
दरअसल 17 अक्टूबर को हर्षिता की कार को पानीपत के इसराना गांव के पास रोक कर बदमाशों ने उसे गोली मार दी थी। इसके बाद बीते बुधवार को हर्षिता का शव लेने पहुंचीं बहन लता ने पति दिनेश पर हत्या करवाने का आरोप लगाया था। जिसके बाद पुलिस जांच में जुट गई थी। 

जीजा ने पहले हर्षिता का रेप और फिर किया मां का मर्डर 
बहन लता ने बताया कि उनके पिता राजकुमार की 6 साल पहले हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। इसके बाद मेरी छोटी बहन हर्षिता लता के पास दिल्ली के कराला गांव में रहने लगी थी। जिस समय हर्षिता अपनी बहन के यहां रहने गई थी। उस समय वो 10वीं में पढ़ती थी। आरोप है कि दिनेश ने हर्षिता को स्कूल से उठाकर रेप किया था। इसके बाद हर्षिता की मां प्रेमो ने दिनेश पर केस दर्ज करा दिया था। केस दर्ज होने के बाद दिनेश ने अपनी सास पर केस वापस लेने के लिए बहुत दबाव बनाया था, लेकिन दबाव बनाने पर भी प्रेमो ने समझौता नहीं किया तो दिनेश ने 2014 में उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। हर्षिता मां की हत्या की चश्मदीद गवाह थी। जिसके बाद दिनेश ने उस पर प्रेमो की हत्या के मामले में गवाही न देने के लिए दबाव बना रहा था, लेकिन हर्षिता नहीं मानी। यही उसकी हत्या की वजह बनी।