दैनिक भास्कर हिंदी: प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की खिड़की का छज्जा गिरा, 7 मजूदर घायल

November 7th, 2019

डिजिटल डेस्क सतना। रामपुर बाघेलान ब्लॉक के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सेल्हना में खिड़की के ऊपर का छज्जा गिरने से 7 मजूदर घायल हो गए। ग्रामीणों की मदद से घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों की हालत अब खतरे से बाहर बताई गई है। बताया गया है कि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सेल्हना को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में उन्नयन किया जाना है। इसके तहत एनएचएम तकरीबन 4 लाख रुपए की लागत से बिल्डिंग की मरम्मत करा रहा है। काम कराने का ठेका तजम्मूल खान को मिला है। बताया गया है कि बुधवार को दोपहर तकरीबन साढ़े 12 बजे 8 मजदूर अस्पताल में सामने की खिड़की में लोहे की ग्रिल फिट कर रहे थे तभी खिड़की के ऊपर का छज्जा मजदूरों के ऊपर गिर गया, जिसमें 7 मजदूर घायल हो गए।
 ये पहुंचे अस्पताल
 जिन घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है उनमें राधेश्याम आदिवासी 45, हेतराम आदिवासी 30, रामदयाल आदिवासी 30, विपिन आदिवासी 28, दीपक आदिवासी 21, पद्म आदिवासी 18 एवं प्रतिमा आदिवासी 45 वर्ष सभी निवासी ग्राम पंचायत सेल्हना मुख्यालय के नाम शामिल हैं। 
 30 वर्ष पुरानी बिल्डिंग
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक सेल्हना प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन तकरीबन 30 वर्ष पुराना है। धीरे-धीरे बिल्डिंग कमजोर पड़ गई है। अभी कुह माह पहले जिले से 41 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में उन्नयन करने के निर्देश मिले थे। इसमें सेल्हना का नाम भी शामिल था। नेशनल हेल्थ मिशन ने एक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के रेनोवोशन के लिए 4 लाख रुपए दिए हैं। ठेका प्रक्रिया के जरिए स्वास्थ्य विभाग अस्पताल भवनों की रिपोयरिंग करा रहा है। 
 पहले भी गिर चुका है प्लास्टर
सेल्हना में 6 बेड की क्षमता वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की हालत जर्जर हो चुकी है। खुन नेशनल हेल्थ मिशन के इंजीनियर भी मान रहे हैं कि बिल्डिंग डिसमेंटल लायक है। अस्पताल सूत्रों की मानें तो इसमें मरीजों को भर्ती कर इलाज करना खतरे से खाली नहीं है, खासतौर पर बारिश के दिनों में। इतना ही नहीं बिल्डिंग के अंदर वार्डों में छत का प्लास्टर भी कई दफा गिर चुका है। इसके बाद भी रंगाई-पोताई कराकर इस बिल्डिंग को वेलनेस सेंटर बनाया जा रहा है।