comScore

नेशनल हाईवे निकला है तो 30 फीसदी बढ़ जाएँगे प्रॉपर्टी के दाम -कलेक्टर गाइडलाइन के रेट बढ़ाने का प्रस्ताव

नेशनल हाईवे निकला है तो 30 फीसदी बढ़ जाएँगे प्रॉपर्टी के दाम -कलेक्टर गाइडलाइन के रेट बढ़ाने का प्रस्ताव

डिजिटल डेस्क जबलपुर । शहर के साथ ही अब गाँव में भी प्रॉपर्टी के दाम बढ़ जायेंगे। अगर कोई गाँव नेशनल हाईवे से लगा हुआ है तो वहाँ की जमीन के रेट 25 से 30 फीसदी तक बढ़ सकते हैं। जिले की अचल संपत्तियों के बाजार मूल्य निर्धारण के लिए गाइडलाइन वर्ष 2021-22 के लिए प्रस्ताव जिला मूल्यांकन समिति में रखा जा चुका है अब इसे केन्द्रीय मूल्यांकन बोर्ड भोपाल भेजा जायेगा। अगर कोई आपत्ति नहीं आती है तो एनएच से लगे सभी गाँवों में जमीन खरीदना मुश्किल होगा क्योंकि पहले से ही यहाँ जमीनों के रेट महँगे हैं गाइडलाइन बढऩे से प्रॉपर्टी के दाम और बढ़ जायेंगे। प्रस्ताव के अनुसार जबलपुर से बरगी तक के गाँव व कुंडम रोड के साथ ही भोपाल मार्ग व सिहोरा तक जिले की सीमा से जुड़े गाँव जहाँ से एनएच निकला है वहाँ दाम बढ़ जायेंगे।  
सबसे ज्यादा शुल्क प्रदेश में 6 प्रॉपर्टी के रेट पहले से ही बहुत ज्यादा हैं इसके साथ ही प्रदेश में सबसे ज्यादा शुल्क भी वसूला जा रहा है। स्टाम्प शुल्क के अलावा ड्यूटी भी ज्यादा ली जा रही है। अभी नगर निगम सीमा क्षेत्र में साढ़े 12 प्रतिशत शुल्क लिया जाता है जिसमें साढ़े 5 फीसदी स्टाम्प शुल्क, 3 प्रतिशत नगर निगम का, 1 प्रतिशत जनपद का शुल्क तो रहता ही है इसके साथ ही 3 फीसदी फीस भी ली जाती है। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्र में साढ़े 5 फीसदी स्टाम्प शुल्क 1 प्रतिशत जनपद का और 3 प्रतिशत फीस ली जाती है। इस तरह साढ़े 9 प्रतिशत शुल्क चुकाना होता है। अगर शुल्क में कटौती हो जाये तो जनता को राहत मिल सकती है। सूत्रों का कहना है कि शुल्क कम करने पर विचार भी चल रहा है।

कमेंट करें
kg5is